Thursday , October 19 2017
Home / Khaas Khabar / जियो न्यूज ने आईएसआई पर ठोका मुकदमा

जियो न्यूज ने आईएसआई पर ठोका मुकदमा

पाकिस्तान के सबसे बडे निजी टीवी चैनल जियो न्यूज ने मुल्क की खुफिया एजेंसी आईएसआई, वज़ारत दिफा और मीडिया Regulatory Pamra के खिलाफ हतक इज़्ज़त (मानहानि) का केस किया है। आईएसआई पर इस तरह का इल्ज़ाम लगाने की हिम्मत कुछ ही लोग कर पाते हैं क्योंकि उसे

पाकिस्तान के सबसे बडे निजी टीवी चैनल जियो न्यूज ने मुल्क की खुफिया एजेंसी आईएसआई, वज़ारत दिफा और मीडिया Regulatory Pamra के खिलाफ हतक इज़्ज़त (मानहानि) का केस किया है। आईएसआई पर इस तरह का इल्ज़ाम लगाने की हिम्मत कुछ ही लोग कर पाते हैं क्योंकि उसे मुल्क का सबसे ताकतवर इदारा माना जाता है। जियो की तरफ से भेजे गए कानूनी नोटिस में कहा गया है कि इन तीनों इदारों ने जियो पर पाकिस्तान मुखालिफ एजेंडे रखने के इल्ज़ाम में जो मुकदमे दर्ज कराए हैं, वो गलत हैं।

नोटिस में कहा गया है कि ये इदारे जियो से माफी मांगे और अगर ऐसा नहीं करते हैं तो 50 अरब रूपये का हर्जाना दें। दूसरी तरफ पैमरा ने वज़ारत दिफा की शिकायत पर पंद्रह दिन के लिए जियो न्यूज का लाइसेंस सस्पेंड कर दिया है। ये मामला जियो टीवी के एंकर हामिद मीर पर हुए जानलेवा हमले से जुडा है जिसके लिए मीर ने आईएसआई को जिम्मेदार ठहराया था।

वज़ारत दिफा मामले को पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेग्युलेटरी अथॉरिटी (पैमरा) में ले गया था और उसने जियो पर मुल्क के एक अहम इदारे को बदनाम करने का इल्ज़ाम लगाया था। आईएसआई का कहना है कि हमले के लिए उसे जिम्मेदार ठहराया जाना बेबुनियाद है। जियो ने एक बयान में कहा है,जियो और जंग ग्रुप ने वज़ारत दिफा , आईएसआई और पैमरा को हतक इज़्ज़त और शबिया खराब करने के लिए कानूनी नोटिस भेजे हैं। अप्रैल में हामिद मीर पर हुए हमले के बाद से ही जियो टीवी का आईएसआई से मुतनाज़ा चल रहा है।

जियो ने अपने नोटिस में कहा है कि उस पर तशद्दुद भडकाने के इल्ज़ाम भी गलत हैं। नोटिस के मुताबिक वज़ारत दिफा , पैमरा और आईएसआई ने मुल्क भर के सिर्फ केबल ऑपरेटरों पर दबाव डाला कि वो जियो न दिखाएं और अगर दिखाएं भी तो उसे चैनलों की फहरिस्त में काफी नीचे रखा जाए। उधर पैमरा ने बयान जारी कर कहा है कि उन्होंने जियो के खिलाफ वज़ारत दिफा की शिकायत पर ये फैसला सुनाया है। जियो के खिलाफ एक करोड पाकिस्तानी रूपये का जुर्माना भी लगाया गया है।

पैमरा ने कहा है कि अगर मुअत्तली की मुद्दत पूरी होने से पहले जुर्माना नहीं दिया गया तो चैनल का टेलीटास्ट आगे बंद रहेगा। ये भी कहा गया है कि अगर जियो ने नियमों की खिलाफवर्जी की तो उसका लाइसेंस खत्म करने का अमल शुरू हो सकता है। वहीं जियो का कहना है कि उसने हामिद मीर पर हुए हमले के बाद अपनी कवरेज के लिए पहले ही आवामी तौर पर माफी मांग ली है। हामिद मीर कराची में एयरपोर्ट से जियो के दफ्तर जा रहे थे कि उन पर हमला हुआ।

उन्हें पेट और टांग में छह गोलियां लगी थीं। ये अभी तक साफ नहीं है कि उन पर किसने हमला कराया क्योंकि किसी गुट ने अभी तक इसकी जिम्मेदार नहीं ली है।

TOPPOPULARRECENT