Saturday , September 23 2017
Home / Featured News / जिसके पास एक करोड़ रुपया नहीं होता वो भी एक करोड़ का इनाम घोषित कर देता है।: मोदी

जिसके पास एक करोड़ रुपया नहीं होता वो भी एक करोड़ का इनाम घोषित कर देता है।: मोदी

modi-6प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में एक बार फिर पार्टी के ‘बड़बोले’ नेताओं को नसीहत देते हुए कहा कि सरकार का मंत्र सिर्फ विकास है। प्रधानमंत्री ने अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं से साफ कहा कि बेकार के मुद्दों में नहीं उलझते हुए अपने विकास के एजेंडे पर चलना चाहिए। मोदी ने कहा, ‘हमें एक ही मूल मंत्र को लेकर आगे चलना है- विकास, विकास और विकास।’
बैठक में प्रधानमंत्री मोदी पार्टी के बड़बोले नेताओं को फटकार लगाते हुए कहा कि विपक्ष के बहकावे में आकर कुछ नेता चर्चा की पूरी दिशा बदल देते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि जिसके पास एक करोड़ रुपया नहीं होता वो भी एक करोड़ का इनाम घोषित कर देता है। फिर बहस विकास से हटकर इन मुद्दों पर शुरू हो जाती है।

प्रधानमंत्री ने अपने बयानों की वजह से विवादों में रहने वाले नेताओं को फटकार लगाते हुए कहा कि टीवी कैमरे आपको इसलिए नहीं खोजते हैं कि आप बहुत महत्वपूर्ण हैं। बल्कि इसलिए की आप जो कहते हैं उससे सुर्खियां बनती हैं। नकारात्मक ताकतों को हराने के लिए बौद्धिक क्षमता और जानकारी बढ़ाने की जरूरत है।

राष्ट्रवाद को पार्टी की ताकत बताते हुए पीएम ने कहा कि उनकी सरकार के 22 महीने के कार्यकाल में अब तक राजनीतिक और आर्थिक भ्रष्टाचार का कोई भी आरोप नहीं लगा है और भाजपा कार्यकर्ताओं को चाहिए कि वे विपक्ष द्वारा उठाए जा रहे व्यर्थ के मुद्दों में न फंसकर पार्टी के हित को आगे बढ़ाते रहे।

गृहमंत्री और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी के समापन के बाद मोदी के भाषण के बारे में जानकारी देते हुए ये बताया।

उनके अनुसार मोदी ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा, ‘आप लोग व्यर्थ के मुद्दों में ना उलझे क्योंकि विपक्ष आपको इनमें उलझाए रखने की कोशिश में लगा है लेकिन आप अपना काम करते रहें।’ सिंह ने हालांकि इस सवाल का जवाब देने से इंकार कर दिया कि क्या भाजपा के लिए अब राम मंदिर, अनुच्छेद 370 और समान नागरिक संहिता भी व्यर्थ के मुद्दे हो गए हैं? मोदी ने आगाह किया कि सरकार के विकास कार्य कुछ लोगों को रास नहीं आ रहे हैं और उसके अभूतपूर्व कार्यों से ध्यान भटकाने के लिए व्यर्थ के मुद्दे उछालकर भाजपा और उसके कार्यकर्ताओं को उलझाने की कोशिश कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार का एक ही मूल मंत्र है और वह है विकास, विकास और विकास क्योंकि सभी समस्याओं का यही समाधान है। विकास का चक्का तेजी से चल पड़ा है और बदलाव आ रहे हैं। मोदी के भाषण से पहले बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में राजनीतिक प्रस्ताव पर भाषण के दौरान वेंकैया नायडू ने पीएम मोदी की जमकर तारीफ की। वेंकैया ने मोदी को भारत के लिए भगवान का उपहार बताया।

Web duniya

TOPPOPULARRECENT