Friday , August 18 2017
Home / AP/Telangana / जीएसटी बिल की मंज़ूरी के लिए तेलंगाना असेंबली की ख़ुसूसी मीटिंग

जीएसटी बिल की मंज़ूरी के लिए तेलंगाना असेंबली की ख़ुसूसी मीटिंग

हैदराबाद 30 अगस्त:तेलंगाना काबीना ने जीएसटी बिल को मंज़ूरी दे दी। 30 अगस्त को सिर्फ एक ही दिन तक असेंबली की मीटिंग महदुद होने का इमकान है।

नए अज़ला की तशकील में सरकारी मह्कमाजात की तक़सीम और मुलाज़िमीन के तबादलों का जायज़ा लेने के लिए चीफ़ सेक्रेटरी की क़ियादत में एक टास्क फ़ोर्स कमेटी तशकील दी गई। असेंबली के मीटिंग के पेश-ए-नज़र चीफ़ मिनिस्टर केसीआर ने काबीना की मीटिंग मुनाक़िद किया जो दो घंटों तक जारी रहा। बावसूक़ ज़राए से पता चला हैके काबीना मीटिंग में जीएसटी बिल को मंज़ूरी दे दी गई। चीफ़ मिनिस्टर ने जीएसटी बिल की एहमीयत-ओ-इफ़ादीयत से तमाम वुज़रा को वाक़िफ़ कराते हुए कहा कि इस बिल का अवाम के मुफ़ादात से ताल्लुक़ है।

मीटिंग में नए अज़ला की तशकील के अमल और रियासत भर में मुख़्तलिफ़ सियासी जमातों रज़ाकाराना तन्ज़ीमों अवामी शख़्सियत नुमाइंदों और अवाम से वसूल होने वाले एतराज़ात का जायज़ा लिया गया। नए अज़ला के लिए मह्कमाजात की तक़सीम और मुलाज़िमीन की दरकार तादाद की फ़राहमी के अलावा दुसरे उमोर पर काफ़ी देर तक मुज़ाकरात हुए। दशहरा तक नए अज़ला की तशकील को यक़ीनी बनाने के लिए चीफ़ सेक्रेटरी राजीव शर्मा की क़ियादत में एक टास्क फ़ोर्स कमेटी तशकील दी गई।

टास्क फ़ोर्स कमेटी चीफ़ मिनिस्टर की एडिशनल सेक्रेटरी सुनीता सभरवाल महिकमा माल सी सी एलए के प्रिंसिपल सेक्रेटरीज़ रीमीनड पीटर परदीब चंद्र के अलावा दूसरे ओहदेदारों के साथ दो अज़ला करीमनगर और वर्ंगल के कलेक्टरस को भी बहैसीयत अरकान कमेटी में शामिल करते हुए चीफ़ सेक्रेटरी को एहमीयत दी गई कि वो मह्कमाजात की तक़सीम और मुलाज़िमीन की दस्तयाबी का बारीकबीनी से जायज़ा लें। ज़ोनल सिस्टम की बरख़ास्तगी के पेश-ए-नज़र क़ानूनी दायरे को मलहूज़ रखते हुए एहतियाती इक़दामात करें ताकि इस से मुलाज़िमीन की सिनियारिटी और तरक़्क़ी के मवाकों की मुकम्मिल गुंजाइश दस्तयाब है।

बावसूक़ ज़राए से पता चला हैके असेंबली की मीटिंग सिर्फ एक दिन के लिए वो भी जीएसटी बिल तक महिदूद रखने का फ़ैसला किया गया। अगर अप्पोज़ीशन जमातें मीटिंग में तौसी देने का दबाओ डालती हैं तो असेंबली के बिज़नेस एडवाइज़री कमेटी के मीटिंग में ग़ौर करने से इत्तेफ़ाक़ किया गया। अप्पोज़ीशन जमातें गैंगस्टर नईम के हाल ही में किए गए एनकाउंटर नए अज़ला की तशकील महाराष्ट्रा के साथ आबपाशी प्रोजेक्ट्स के मुआहिदा पर हुकूमत को घेरने का मन्सूबा रखती हैं लेकिन हुकूमत जीएसटी बिल की मंज़ूरी के लिए ही सैशन तलब करने की बात कर रही है।

पहले दिन जीएसटी बिल दूसरे दिन नए अज़ला की तशकील और महाराष्ट्रा हुकूमत के साथ मुआहिदे के मबाहिस तक ही हुकूमत इस सेशन को महदूद करने का मन्सूबा रखती है।

TOPPOPULARRECENT