Wednesday , October 18 2017
Home / Khaas Khabar / जी औज़ जारी करने के लिए वाई एस आर क्योंकर क़सूरवार?

जी औज़ जारी करने के लिए वाई एस आर क्योंकर क़सूरवार?

* तमाम फ़ैसले पुरी केबीनेट‌ की ज़िम्मेदारी होते हैं, सोनीया गांधी के इशारे पर जगन केख़िलाफ़ मुहिम जारी, विज्याम्मा और शर्मीला का बयान‌

* तमाम फ़ैसले पुरी केबीनेट‌ की ज़िम्मेदारी होते हैं, सोनीया गांधी के इशारे पर जगन केख़िलाफ़ मुहिम जारी, विज्याम्मा और शर्मीला का बयान‌
हैदराबाद (सियासत न्यूज़) वाई एस आर कांग्रेस पार्टी की एज़ाज़ी सदर मिसिज़ विज्याम्मा ने कहाकि 26 जी औज़ जारी करने के लिए पुरी केबीनेट‌ ज़िम्मेदार है लेकिन डाक्टर राज शेखर रेड्डी को क़सूरवार क़रार दिया जा रहा है। जगन की बहन शर्मीला ने कहाकि सोनीया गांधी की हिदायत पर जगन मोहन रेड्डी को गिरफ़्तार किया गया है।

ज़िला अनंतपुर के राय दुर्गम असेंबली हलक़ा में लोगों की बडी तादाद से बातचित‌ करते हुए मिसिज़ विज्याम्मां ने कहाकि डाक्टर राज शेखर रेड्डी की हर दस्तख़त ग़रीब लोगों की भलाइ के लिए थी और तमाम फ़ैसले केबीनेट मे तमाम कि राय से किए गए थे। फिर भि 26 जी औज़ जारी करने के लिए कांग्रेस हुकूमत डाक्टर राज शेखर रेड्डी को ज़िम्मेदार क़रार दे रही है।

उन्हें शक है कि डाक्टर रेड्डी का हेलीकोप्टर साज़िश का शिकार हुआ है। मैंने इस पर सिर्फ अपना शक जाहिर‌ किया है लेकिन कांग्रेस की तरफ‌ से मुझ पर और मेरे बेटे पर ही अपने शौहर और बाप के क़तल का इल्ज़ाम लगाया जा रहा है। कांग्रेस कि ये दलिल‌ क्या सच्च है? क्या में और मेरा बेटा इक़तिदार की लालच में ग़रीबों के मसीहा को ग़रीबों से दूर कर सकते हैं? सी बी आई को सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी मिस्टर बी सत्य नारायणा और अप्पोज़ीशन लिडर‌ चंद्रा बाबू नायडू की बदउनवानीयां नज़र नहीं आ रही हैं। बदउनवानीयों के इल्ज़ाम का सामना करने वाले के रोशिया को गवर्नर बना दिया गया, बदउनवानीयों के इल्ज़ाम में चीफ़ मिनिस्टर के ओहदे से महरूम होने वाले महाराष्ट्रा के चौहान के ख़िलाफ़ सी बी आई क्यों कार्रवाई नहीं कर रही है ? सोनीया गांधी की बात ना सुन कर पुर्सा यात्रा करने वाले जगन मोहन रेड्डी को ढाई साल से परेशान‌ किया जा रहा है।

एक मर्तबा 700 इंकम टैक्स के ओहदेदारों ने साक्षी पर धावा, सी बी आई के ओहदेदारों ने हमारे घर पर 8 दिन तक जांच‌ की। जगन मोहन रेड्डी पर लाखों करोड़ रुपय कमाने का इल्ज़ाम लगाया जा रहा है। अगर करोड़ों रुपया कमाया जाता तो जगन को अपनी समनट फेकटरी बेचने की ज़रूरत क्यों पेश आती।

फ़िल्म डायरेक्टर को धमकाने का जगन पर इल्ज़ाम लगाया जा रहा है। रियासत में जो भी वाक़िया पेश आरहा है इस को जगन से जोड़ दिया जा रहा है। कोई भी ग़लती करने के बावजूद पूछताछ के नाम पर सी बी आई ने जगन को गिरफ़्तार कर लिया है। हम ने चंद्रा बाबू नायडू के ख़िलाफ़ कई शिकायतें कीं, मगर तेल्गुदेशम से साज़ बाज़ के सबब‌ उस को नजरअंदाज़ कर दिया गया।

डाक्टर राज शेखर रेड्डी ने जो भलाइ स्किमें परीचित कि है इस को सिर्फ जगन ही पुरा कर‌ सकते हैं। जगन मोहन रेड्डी की बहन शर्मीला ने कहाकि सी बी आई सोनीया गांधी के इशारों पर नाच रही है। जगन के लिए लोगों की मुहब्बत कांग्रेस और तेल्गुदेशम को हज़म नहीं होरही है। जगन मोहन रेड्डी क़सुरवार‌ कैसे होसकते हैं, क्या उन्हों ने कभी सेक्रेट्रेट‌ की सीढ़ीयां चढ़ी हैं या किसी ओहदेदार से मुलाक़ात की है।

जगन का पुर्सा यात्रा करना कांग्रेस हाईकमान को पसंद नहीं था। उन्हों ने इंडिया टूडे मैगज़ीन का हवाला देते हुए कहाकि जगन की गिरफ़्तारी की साज़िश दिल्ली में रची गई है। सी बी आई की तरफ‌ से बुलाने पर जगन 25 से 27 मई उन के सामने हाज़िर हुए थे इस दौरान दिल्ली से लिडरों की सी बी आई के ओहदेदारों से बातचीत हुई थी। 27 मई की सुबह में ग़ुलाम नबी आज़ाद ने 10 जनपथ पहूंच कर उन से मुलाक़ात की और शाम में सी बी आई ने जगन को गिरफ़्तार करने का एलान किया।

सी बी आई ने सोनीया गांधी से हिदायत हासिल करने के बाद ही जगन को गिरफ़्तार किया है। 12 जून को वाई एस आर कांग्रेस पार्टी के हक़ में वोट देते हुए जगन बेक़सूर होने का दिल्ली को सबूत पेश करें।

TOPPOPULARRECENT