Saturday , August 19 2017
Home / India / जूडिशल कमिशन के रूबरू चीफ़ मिनिस्टर केरला की हाज़िरी

जूडिशल कमिशन के रूबरू चीफ़ मिनिस्टर केरला की हाज़िरी

तिरुवनंतपुरम: चीफ़ मिनिस्टर केरला मिस्टर चांडी ने सोलार पैनल स्कैम की तहक़ीक़ात करने वाले जूडिश‌ल कमीशन के रूबरू हाज़िरी दी और स्कैंडल में उनके या उनके दफ़्तर के रोल के इल्ज़ाम कीतिर् दीद की । चंडी ने जस्टिस शिवराजन कमीशन के रूबरू हाज़िरी दी जिन्होंने मुक़ामी गेस्ट हाउज़ में अपना इजलास मुनाक़िद किया।

चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि स्कैम की वजह से रियासत को कोई नुक़्सान नहीं पहुंचा और ये एतराफ़ किया कि स्कैम के दो में से एक मुल्ज़िम सरीता से असल शिकायत कनुंदा सरीधरन साइबर के साथ मुलाक़ात की थी। चीफ़ मिनिस्टर ने ये वज़ाहत की कि ना तो उन्होंने और ना ही उनके दफ़्तर ने धोका दिया।

।। कंपनी टीम सोलार की इआनत की थी जिसे सरीता और उनके शरीक मुजरिम बीजू राधा कृष्णन ने क़ायम किया था। मिस्टर चांडी ने बताया कि उन्होंने एक मर्तबा राधा कृष्णन से मुलाक़ात की और शख़्सी आमद पर तबादला-ए-ख़्याल किया था लेकिन वो कमीशन के रूबरू बातचीत का ख़ुलासा करना नहीं चाहते।

चीफ़ मिनिस्टर केरला ने जुडीश‌ल कमीशन के रूबरू हाज़िरी दी है। अपोज़ीशन सीपीऐम की ज़ेर-ए-क़ियादत एलडी एफ़ ने एक एहतेजाजी तहरीक चलाते हुए चीफ़ मिनिस्टर चंडी से इस्तीफे का मुतालिबा किया था जबकि चीफ़ मिनिस्टर के स्टाफ़ टींसी जो फ़न और जैको मन के सरीता से ताल्लुक़ात का इफ़शा-ए-के बाद स्कैम पर सियासत शुरू हो गई थी जिसकी तहक़ीक़ात के लिए हुकूमत ने 23 नवंबर 2013को रिटायर्ड जज हाइकोर्ट को एक रुकनी कमीशन की हैसियत से तक़र्रुर किया था।

सोलार अस्क़ाम उस वक़्त मंज़र-ए-आम पर आया जब सरीता और राधा कृष्णन ने शमशी तवानाई की तख़्तियाँ फ़राहम करने का वादा करते हुए सैंकड़ों अफ़राद से करोड़ों रुपये का ग़बन कर लिया है। मुल्ज़िमीन ने अपने कारोबार में नामी गिरामी शख़्सियतों के नाम का इस्तेमाल किया था अगर सरीता को 9माह जेल में क़ैद के बाद रिहा कर दिया गया जबकि राधा कृष्णन हुनूज़ जेल में महरूस हैं|

TOPPOPULARRECENT