Sunday , September 24 2017
Home / International / जेल में बंद नरगीस मोहम्मदी को ग्लोबल प्लॉडिट्स सम्मान

जेल में बंद नरगीस मोहम्मदी को ग्लोबल प्लॉडिट्स सम्मान

ईरानी सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार नरगीस मोहम्मदी को उनके मानव अधिकार कार्यों और ईरान में मौत की सजा को समाप्त करने के उनके अभियान के लिए पुरस्कारों और ग्लोबल प्लॉडिट्स से नवाजा गया है। 44 वर्षीय की नरगीस फिलहाल दो साल से जेल में हैं। उन्हें सोलह साल की सजा हुई है। उन्हें मई 2015 में गिरफ्तार किया गया था। जेल में बंद नरगीस को मांसपेशियों की लाइलाज बीमारी है। ईरान के हजारों नागरिकों ने नरगीस की रिहाई के लिए संयुक्त राष्ट्र और वैश्विक अधिकार समूह के साथ मिलकर अभियान चलाया है। दूसरी तरफ ईरान का आरोप है कि संयुक्त राष्ट्र और वैश्विक अधिकार समूह उनके आंतरिक मामलों में दखल दे रहा है।

ग्लोबल मानवाधिकार संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल का कहना है कि नरगीस को सजा देना मानवता का शोषण है और यह अभिव्यक्ति की आजादी का उल्लंघन है। एमनेस्टी के मध्य पूर्व और उत्तरी अफ्रीका के निदेशक फिलिप लूथर ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर नरगीस मोहम्मदी को दिया गया यह सजा एक ऐसा उदाहरण है जो बताता है कि ईरान अभिव्यक्ति की आजादी का किस प्रकार दमन कर रहा है।

पत्रकार और ईरानी कार्यकर्ता मसीह अलीनेजाद ने नरगीस के रिहाई के लिए ऑनलाइन आंदोलन शुरू किया है। हजारों लोगों ने नरगीस की रिहाई के लिए अपने हाथों पर ‘फ्री नरगीस’ लिखकर सोशल मीडिया में पोस्ट किया है। मसीह अलीनेजाद ने द वर्डपोस्ट से कहा है कि नरगीस निर्दोष है और लोग उसके लिए रो रहे हैं। हम चाहते हैं कि उसे आजाद किया जाए और हमारी सरकार और अंतरराष्ट्रीय समुदाय के पास एक ही रास्ता है कि इस पर वो ध्यान दे।

TOPPOPULARRECENT