Sunday , October 22 2017
Home / World / जोहांसबर्ग में सत्याग्रह् हाऊस नामी गांधी म्यूज़ीयम

जोहांसबर्ग में सत्याग्रह् हाऊस नामी गांधी म्यूज़ीयम

जोहांसबर्ग २० नवंबर (पी टी आई) जोहांसबर्ग के एक मज़ाफ़ाती इलाक़ा में जहां किसी ज़माने में हिंदूस्तान के बाबाए क़ौम महात्मा गांधी ने रिहायश इख़तियार की थी। इस मकान को अब एक होटल में तबदील कर दिया गया है लेकिन इस की ख़ुसूसीयत ये है कि होटल

जोहांसबर्ग २० नवंबर (पी टी आई) जोहांसबर्ग के एक मज़ाफ़ाती इलाक़ा में जहां किसी ज़माने में हिंदूस्तान के बाबाए क़ौम महात्मा गांधी ने रिहायश इख़तियार की थी। इस मकान को अब एक होटल में तबदील कर दिया गया है लेकिन इस की ख़ुसूसीयत ये है कि होटल दोहरी नौईयत की ज़िम्मेदारी पूरी कर रहा है।

होटल के इलावा वहां एक म्यूज़ीयम का भी सैक्शन है जहां महात्मा गांधी की ज़िंदगी के बारे में तसावीर और दीगर लिटरेचर मौजूद है। आज हिंदूस्तान के इलावा जुनूबी अफ़्रीक़ा में भी गांधी जी के पर सितारों की कमी नहीं है। मज़कूरा इमारत को सत्याग्रह् हाऊस से मौसूम किया गया है जिसे सिर्फ दो साल क़बल एक फ़्रांसीसी ट्र्वॆल् कंपनी के चीफ़ ऐगज़ीक्यूटिव जैन फ़रानकोइस रयाल ने ख़रीदा था।

मुक़ामी मौरर्ख़ीन के तआवुन से गांधी जी की तमाम यादगारों को महफ़ूज़ करते हुए उसे म्यूज़ीयम की ज़ीनत बनाया गया जहां गांधी जी के अदम तशद्दुद के नज़रिया को काफ़ी एहमीयत दी गई है। इस मौक़ा पर मिस्टर रयाल ने कहाकि गांधी जी की मुज़ाहमत को लोग सत्याग्रह् के नाम से जानते हैं और इसी मुनासबत से उन्हों ने म्यूज़ीयम को सत्याग्रह् हाऊस से मौसूम किया है।

ये अब सयाहत का एक ऐसा मर्कज़ बन जाएगा जहां ऐसे सय्याह ज़रूर आयेंगे जो गांधी जी के बारे में मज़ीद मालूमात के ख़ाहां होंगी।

TOPPOPULARRECENT