Thursday , August 24 2017
Home / Bihar/Jharkhand / झारखंड : क्रिकेट बोर्ड का सदस्य बनाने के लिए बोर्ड ने लिया इम्तिहान ज़्यादातर फ़ेल

झारखंड : क्रिकेट बोर्ड का सदस्य बनाने के लिए बोर्ड ने लिया इम्तिहान ज़्यादातर फ़ेल

झारखंड : प्रदेश की क्रिकेट बोर्ड में शामिल होने के लिए आपको ना सिर्फ क्रिकेट की जानकारी होनी चाहिए बल्कि आपको यह भी पता होना चाहिए भगवान राम एक एकलौती बहन कौन थी, किस भारतीय देवी को ग्रीक की एथेना और रोम की मिनरेवा कहा जाता है, या फिर किसने कहा था कि अगर कुछ भी निश्चित हैं, तो वह यह कि मैं खुद एक मार्क्सिस्ट नहीं हूं। इन बातों को सुनकर आप सोच रहे होंगे कि क्रिकेट बोर्ड का सदस्य होने के लिए इन बातों की जानकारी होने का क्या महत्व है। लेकिन झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन ने बोर्ड का सदस्य बनने के लिए आवेदन करने वालों से यही सवाल पूछे हैं। 300 आवेदक अपना खाता खोल नहीं पाए झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन के सदस्य के लिए कुल 941 आवेदन आए थे और इन लोगों ने जब परीक्षा में प्रश्न पत्र देखा तो उनका सिर चकरा गया। प्रश्न पत्र में 40 सवालों का जवाब देना था जिसमें 300 छात्र अपना खाता भी नहीं खोल पाए। परीक्षा में सबसे अधिक अंक एक आवेदक ने 17 हासिल किए हैं।

इस परीक्षा में नकारात्म मार्किंग नहीं थी, बोर्ड ने पासिंग मार्क की भी घोषणा नहीं की थी। लोढ़ा कमेटी की सिफारिश के बाद किया गया परीक्षा का आयोजन वहीं एसोसिएशन के अध्यक्ष अमिताभ चौधरी ने कहा कि हम मैनेजिंग कमेटी की बैठक करेंगे जिसमें इस बात का फैसला लिया जाएगा किन आवेदकों को चुना जाए। हम पहली बार इतनी बड़ी संख्या में आवेदन से काफी खुश हैं, प्रदेश की एसोसिएएशन ने पहली बार इस तरह का कदम उठाया है। इस टेस्ट का आयोजन इसलिए किया गया था ताकि क्रिकेट नहीं खेलने वाले लोग भी बोर्ड के सदस्य बन सके। लोढा कमेटी की संस्तुति के आधार पर ही इस तरह का कदम उठाया गया है।

अन्य क्षेत्रों से भी पूछे गए सवाल आवेदकों को पहले ही बता दिया गया था कि 20 सवाल घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से पूछे जाएंगे, जबकि 5-5 सवाल अंतर्राष्ट्रीय, घरेलू खेल जिसमें क्रिकेट शामिल नहीं होगा, देश, राज्य और सामान्य ज्ञान से पूछा जाएगा। लेकिन इस बात की किसी को भी जानकारी नहीं थी कि उनसे धर्म, राजनीति, इतिहास और लेप्ट फिलॉसोफी से सवाल पूछे जाएंगे। इस प्रश्नपत्र में छात्रों से यह भी पूछा गया था कि कौन सा भारतीय गवर्नर जनरल था जिसने इंडियन स्कूल ऑफ माइन्स की स्थापना की थी। बोर्ड ने बताया सामान्य सवाल एसोसिएशन के सेक्रेटरी राजेश वर्मा का कहना है कि सवाल मुश्किल नहीं थे, अगर लोग अखबार पढ़ते हैं तो इन सवालों के जवाब दे सकते हैं, प्रश्नपत्र मे कई सवाल ऐसे थे जो खेल से संबंधित थे, जैसे वेस्टइंडीजे के 3 मशहूर डब्ल्यू कौन हैं।

TOPPOPULARRECENT