Saturday , September 23 2017
Home / Jharkhand News / झारखंड में पंचायत इंतिखाब 22 नवंबर से, ज़ाब्ता एखलाक कानून लागू

झारखंड में पंचायत इंतिखाब 22 नवंबर से, ज़ाब्ता एखलाक कानून लागू

रांची : रियासती एलेक्शन कमीशन ने झारखंड में पंचायत इंतिख़ाब की एलान कर दी है। पूरे रियासत में चार फेस में इंतिख़ाब कराये जायेंगे। पहले फेस के लिए 22 नवंबर, दूसरे के लिए 28 नवंबर, तीसरे के लिए पांच दिसंबर और चाैथे के लिए 12 दिसंबर को वोटिंग कराये जायेंगे। पहले व दूसरे फेस के लिए छह दिसंबर, तीसरे के लिए 13 व आखरी फेस के लिए 19 दिसंबर काे वोटिंग हाेगी। 23 अक्तूबर काे पहले फेस की नोटिफिकेशन के साथ ही पंचायत इंतिख़ाब की अमल शुरू हाे जायेगी।

रियासती एलेक्शन कमीशन शिव बसंत ने जुमेरात काे दाखला सेक्रेटरी एनएन पांडेय, डीजीपी डीके पांडेय, पंचायती राज सेक्रेटरी प्रवीण शंकर, आइजी ऑपरेशन एसएन प्रधान समेत कई आला अफसरों की मौजूदगी में इंतिखाब प्रोग्राम की एलान की। इसके साथ ही रियासत में इंतिख़ाब ज़ाब्ता एखलाक कानून लागू हाे गयी है। रियासत एलेक्शन कमीशन ने बताया कि एसेम्बली इंतिख़ाब में इस्तेमाल वोटिंग लिस्ट की बुनियाद पर ही रियासत में पंचायत इंतिख़ाब कराये जा रहे हैं। यह इंतिख़ाब पार्टी वाइज़ नहीं होगा।

इंतिकहब में किसी सियासी पार्टी की मौलूसीयत पाये जाने पर सख्त कार्रवाई की जायेगी। इंतिख़ाब की पूरी अमल के दौरान सेक्युर्टी के पुख्ता इंतजाम होंगे। रियासत एलेक्शन कमीशन की तरफ से जारी किये गये इंतिख़ाब प्रोग्राम के मुताबिक रियासत के ज्यादातर जिलों में चार फ़ेसों में पंचायत इंतिख़ाब शुरू होंगे। सबसे कम दाे फेस में सिर्फ कोडरमा और जामताड़ा में ही इंतिख़ाब होंगे। बाक़ी जिलों में तीन या चार फेस में इंतिख़ाब कराये जायेंगे।

पंचायत इंतिख़ाब बैलेट पेपर से होगा। एक वोटर वार्ड मेम्बर, मुखिया, पंचायत कमिटी मेम्बर और जिला काउंसिल मेम्बर के लिये चार वोट डालेगा। सभी ओहदे के लिये अलग-अलग रंगों का बैलेट पेपर होगा। मिस्टर बसंत ने बताया कि मुकर्रर दस्तूरुल अमल के मुताबिक बैलेट पेपर पर नोटा का ऑब्शन नहीं होगा। वोटरों को बैलेट पेपर पर इनमें से कोई नहीं का ऑप्शन नहीं मिलेगा।

Book1

TOPPOPULARRECENT