Monday , August 21 2017
Home / Jharkhand News / झारखंड में बच्चे अब धौनी और दीपिका की कहानी पढ़ेंगे

झारखंड में बच्चे अब धौनी और दीपिका की कहानी पढ़ेंगे

रांची : क्रिकेटर महेंद्र सिंह धौनी, तीरंदाज दीपिका कुमारी, मुल्क के पहले हॉकी कप्तान मारंग गोमके जयपाल सिंह मुंडा, मुल्क की पहली खातून एवरेस्ट फतह करने वाली बछेंद्री पाल और साबिक़ खातून हॉकी कप्तान असुंता लकड़ा में एक बात बराबर है। अलग-अलग खेलों से जुड़ी ये दिग्गज हस्तियां अगले सेशन से झारखंड के स्कूली सबजेक्ट का हिस्सा होंगी। रियासत के बच्चे इनके ज़िंदगी से इबरत लेंगे। पहले फेज़ के लिए क्लास 5 तक की किताब प्रिंटिंग के लिए भेज दी गई है।

स्कूली बच्चों को खेलों का अहमियत समझाने और रियासत की खेल कल्चर की जानकारी देने के लिए जेसीईआरटी ने नए सब्जेक्ट बनाए हैं। धौनी, दीपिका, जयपाल सिंह मुंडा और असुंता को जहां तीसरी क्लास के सब्जेक्ट में शामिल किया गया है वहीं बछेंद्री के बारे में पांचवीं क्लास के बच्चे पढ़ेंगे। यह पहली बार हो रहा है कि इतनी बड़ी तादाद में झारखंड से जुड़े खेल दिग्गजों को स्कूली सिलेबस में शामिल किया जा रहा है। तालीम महकमा की टीम ने भुवनेश्वर में एनसीईआरटी की टीम के साथ बैठक के बाद नए सब्जेक्ट तैयार किए हैं।

पहले तो शुक्रिया मुझे किताब में जगह देने के लिए। सरकार की अच्छी पहल है। खेल के शोबे में काफी स्कोप है। स्कूली सतह से ही जानकारी होगी, तो बच्चे खेलों की दुनिया में आगे आएंगे।
दीपिका कुमारी, तीरंदाज

हम क्वालिटी एजुकेशन की बात करते हैं, लेकिन बच्चों को अपने ही रियासत की पूरी जानकारी नहीं दे पाते। हमने एक कोशिश किया है कि रियासत के हर शोबे की जानकारी बच्चों तक पहुंचे और बच्चों में जद्दो-जहद से आगे बढ़ने की इबरत मिले हो। हर शोबे में स्कोप है बच्चों को यह बताना जरूरी है।
डॉ नीरा यादव, तालीम वज़ीर, झारखंड

 

TOPPOPULARRECENT