Friday , October 20 2017
Home / Hyderabad News / टैक्स वसूली का जायज़ा लेने काबीनी ज़ेली कमेटी का क़ियाम

टैक्स वसूली का जायज़ा लेने काबीनी ज़ेली कमेटी का क़ियाम

तेलंगाना रियासती काबीना ने पार्लियामेंट सेक्रेटरीज़ के तक़र्रुर दुसरे रियासत में टैक्सस की पालिसीयों के तरीका-ए-कार का जायज़ा लेने वज़ीर कमर्शियल टैक्सस की क़ियादत में काबीनी सब कमेटी तशकील देने वर्ंगल शहर में पुलिस कमिशनरीयट का

तेलंगाना रियासती काबीना ने पार्लियामेंट सेक्रेटरीज़ के तक़र्रुर दुसरे रियासत में टैक्सस की पालिसीयों के तरीका-ए-कार का जायज़ा लेने वज़ीर कमर्शियल टैक्सस की क़ियादत में काबीनी सब कमेटी तशकील देने वर्ंगल शहर में पुलिस कमिशनरीयट का क़ियाम अमल में लाने हुकूमत के इंतिहाई एहमीयत के हामिल अंजाम दिए जाने वाले वाटर ग्रिड प्रोग्राम से मुताल्लिक़ आर्डीनेंस की मंज़ूरी दी है।

7 मार्च को असेंबली-ओ-कौंसिल के मुशतर्का मीटिंग के लिए मुरत्तिब करदा गवर्नर के ख़ुतबा को काबीना ने मंज़ूरी देते हुए 11 मार्च को रियासत तेलंगाना का सालाना बजट क़ानूनसाज़ असेंबली में पेश करने का भी फ़ैसला किया।

चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना केचन्द्र शेखर राव की सदारत में रियासती काबीना कि मीटिंग मुनाक़िद हुवी जो कि ज़ाइद अज़ दो घंटों तक जारी रहि। इस काबीना के मीटिंग में तमाम वुज़रा शरीक थे चूँकि तेलंगाना क़ानूनसाज़ असेंबली के बजट सेशन शेडूल से मुताल्लिक़ आलामीया जारी होचुका है जिस की रोशनी में काबीना की रुवेदाद बिशमोल फ़ैसलों से अख़बारी नुमाइंदों को बाक़ायदा तौर पर वाक़िफ़ नहीं करवाया गया।

बतायागया कि चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना के चन्द्रशेखर राव ने काबीनी रफ़क़ा को असेंबली मीटिंग में मुकम्मिल मालूमात-ओ-तफ़सीलात के साथ शरीक रहने की सख़्त हिदायत दें क्युंकि अप्पोज़ीशन जमातों की तरफ से हुकूमत की कारकर्दगी को हदफ़-ए-मलामत बनाने और सख़्त तन्क़ीदों का निशाना बनाने का इमकान है।

लिहाज़ा इस सूरत-ए-हाल से इंतिहाई चौकस-ओ-चौकन्ना रहते हुए अप्पोज़ीशन जमातों के इल्ज़ामात-ओ-तन्क़ीदों का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयारी के साथ असेंबली मीटिंग में शिरकत करने की काबीनी रफ़क़ा-ओ-अरकाने असेंबली टी आर एस को ज़रूरी हिदायात के चन्द्रशेखर राव ने दी हैं।

बताया जाता हैके काबीना के मीटिंग में असेंबली में अप्पोज़ीशन जमातों के साथ निमटने के लिए इख़तियार की जाने वाली हिक्मत-ए-अमली पर भी तफ़सीली ग़ौर-ओ-ख़ौस किया गया और वुज़रा से तबादला-ए-ख़्याल किया गया और वुज़रा को चीफ़ मिनिस्टर ने बताया कि इस असेंबली सेशन में अप्पोज़ीशन जमातों की तरफ से तन्क़ीदों-ओ-सवालात की बारिश होने वाली है जिस को पेशे नज़र रखते हुए इंतिहाई सब्र-ओ-तहम्मुल का मुज़ाहरा करने की तलक़ीन की और कहा कि अपने अपने महिकमा से मुताल्लिक़ मुकम्मिल तफ़सीलात के साथ असेंबली सेशन में शिरकत करें।

इस मौके पर बताया जाता हैके वज़ीर कमर्शियल टैक्सस ने मुदाख़िलत करते हुए काबीनी रफ़क़ा को इस बात से वाक़िफ़ करवाया कि ताजरीन की तरफ से वक़्त पर टैक्सस रक़ूमात की अदायगी अमल में नहीं आरही है जिस के नतीजे में ही टैक्सस की वसूली सुस्त रफ़्तारी से जारी है लिहाज़ा काबीना के मीटिंग में कमर्शियल टैक्सस के तरीका-ए-कार में मुनासिब तबदीलीयां लाने का फ़ैसला किया गया।

दुसरे रियासतों में टैक्स के तरीका-ए-कार का जायज़ा लेने काबीनी सब कमेटी तशकील देने का फ़ैसला किया गया। काबीना ने मौजूदा ज़रई मार्किट कमेटीयों को तहलील कर के नई मार्किट कमेटीयों की तशकील अमल में लाने के लिए हरी झंडी दिखाई है। बताया जाता हैके चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव ने दौरान असेंबली सेशन तमाम अरकान को भी एवान में मौजूद रहने और वुज़रा को भी मुकम्मिल तैयारी के साथ मीटिंग में शरीक होने की ज़रूरी हिदायात दी हैं।

TOPPOPULARRECENT