Saturday , September 23 2017
Home / World / ट्रंप के बदले सुर, अमेरिका में मुस्लिमों के एंट्री पर बैन में छूट की वकालत

ट्रंप के बदले सुर, अमेरिका में मुस्लिमों के एंट्री पर बैन में छूट की वकालत

अमेरिका : अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के संभावित उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने तमाम चुनावी सभाओं में गैर-अमेरिकी मुस्लिमों की अमेरिका में एंट्री पर बैन लगाने की बात कही थी. उन्होंने कहा कि था कि अमेरिका में मुस्लिमों की एंट्री पूरी तरह से बंद कर देनी चाहिए. लेकिन पहली बार अमेरिकी राष्ट्रपति पद की दौड़ में शामिल रिपब्लिकन उम्मीदवार इस मुद्दे पर सवालों से खुद को किनारा करते हुए दिखाई दिए.

दरअसल अब ट्रंप की प्रवक्ता की मानें तो अब वह संभावित रिपब्लिकन उम्मीदवार हैं और अब वो गैर-अमेरिकी मुस्लिमों के अमेरिका में एंट्री पर लंबे समय तक पाबंदी के पक्ष में नहीं हैं. पिछलों दिनों चुनावी कैंपेन के दौरान ट्रंप ने बढ़ते आतंकवाद को लेकर अमेरिका में गैर-अमेरिकी मुस्लिमों के लिए बैन को बयान दिया था. लेकिन अब वो इस बयान पर टिप्पणी करने से बच रहे हैं.

गौरतलब है कि पिछले साल दिसंबर में कैलिफोर्निया के सैन बर्नार्दिनो में एक हमले के दौरान 14 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. जिसके बाद ट्रंप में मुस्लिमों को अमेरिका में एंट्री पर बैन की बात कही थी. ट्रंप के इस बयान का उस समय जोरदार विरोध भी हुआ था. यही नहीं, ट्रंप से पूछा गया था कि क्या ये नियम अमेरिका नागरिकों के बाहर जाने पर भी लागू होगा? क्या ऐसा मेंबर ऑफ आर्म्ड फोर्सेज पर भी होगा? जॉर्डन के किंग अब्दुल्ला-2 कट्टर अमेरिकी सहयोगी हैं. तो क्या इनके साथ भी यही नियम लागू होगा क्योंकि ये भी मुस्लिम हैं? इस अलावा शांति के नोबेल विजेता मलाला यूसुफजई के साथ कौन-सा नियम पालन किया जाएगा?

सवालों का जवाब में ट्रंप के कैंपेन मैनेजर कोरी लेवनडोस्की ने कहा था कि बैन सभी पर लागू होगा. यही नहीं, टूरिस्ट और प्रवासी वीजा चाहने वाले मुस्लिमों पर भी लागू होगा. गैर-मुस्लिमों से जुड़े अन्य दूसरे सवालों ट्रंप के कैंपनरों से जवाब देने से इनकार कर दिया. लेकिन अब डोनाल्ड ट्रंप के मुस्लिमों को लेकर सख्त तेवर ढीले पड़ने लगे हैं. अब इनके कैंपनरों की ओर जानकारी दी जा रही है कि पाबंदी के दायरे से एथलीटों और दुनिया के बड़े नेताओं को बाहर रखा जाएगा, यानी उनपर पाबंदी लागू नहीं होगी.

TOPPOPULARRECENT