Thursday , May 25 2017
Home / Islami Duniya / ट्रंप ने दूतावास हटाया तो शांति प्रक्रिया को नुकसान पहुंचने की संभावना: फिलिस्तीनी राष्ट्रपति

ट्रंप ने दूतावास हटाया तो शांति प्रक्रिया को नुकसान पहुंचने की संभावना: फिलिस्तीनी राष्ट्रपति

epa02962297 President of Palestinian National Authority Mahmoud Abbas speaks during a press conference in Narino Palace in Bogota, Colombia, 11 October 2011. EPA/Mauricio Duenas

वेटिकन सिटी: फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने कहा कि अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प अपनी योजना के तहत अगर अमेरिकी दूतावास को तलअबीब से यरूशलम लाएंगे तो शांति प्रक्रिया को नुकसान हो सकता है.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

प्रदेश 18 के अनुसार, ट्रम्प की योजना यरूशलेम को इस्राइल की राजधानी के रूप में पहचान करने और अमेरिकी दूतावास को तलअवीव से हटाकर यरूशलम ले जाने की है. हालांकि फिलिस्तीनी इस कदम का विरोध कर रहे हैं.
श्री अब्बास ने यहां पोप फ्रांसिस से मध्य एशिया की स्थिति पर चर्चा करने के बाद पत्रकारों से कहा, ‘अमेरिकी दूतावास का स्थान बदलने के मामले में हम ट्रम्प की योजना पर नजर रख रहे हैं. अगर ऐसा होता है तो शांति बहाली में मदद नहीं मिलेगी और हम नहीं चाहते कि ऐसा हो.
अब्बास ने कहा कि यदि दूतावास को स्थानांतरित किया जाता है तो ‘‘हमारे सामने कई विकल्प होंगे और हम इन पर अरब देशों के साथ चर्चा करेंगे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इजराइल को दी गई मान्यता को निरस्त कर देना ऐसे ही विकल्पों में से एक होगा. लेकिन हमें उम्मीद है कि यह मामला उस स्तर तक न पहुंचे और हम अगले अमेरिकी प्रशासन के साथ काम कर सकें.’’
उल्लेखनीय है कि इजराइल और फिलस्तीन लिबरेशन ऑर्गनाइजेशन (पीएलओ) ने 1993 ओस्लो समझौतों के तहत एक दूसरे को मान्यता दी थी. लेकिन जिस प्रक्रिया से एक चिरस्थायी शांति देने की उम्मीद की जा रही थी, वह देखने को नहीं मिला.

Top Stories

TOPPOPULARRECENT