Monday , October 23 2017
Home / World / ट्रंप भारत के लिए सबसे बेहतर यूएस प्रेजिडेंट, अमेरिका से मिलकर तबाह कर दें पाकिस्तान के परमाणु जखीरा : अमेरिका के पूर्व सेनेटर

ट्रंप भारत के लिए सबसे बेहतर यूएस प्रेजिडेंट, अमेरिका से मिलकर तबाह कर दें पाकिस्तान के परमाणु जखीरा : अमेरिका के पूर्व सेनेटर

अमेरिका के पूर्व सेनेटर लैरी प्रेसलर तीन बार सेनेटर और 2 बार हाउस ऑफ रेप्रिजेंटटिव के सदस्य रहे हैं उनका कहना कि डॉनल्ड ट्रंप भारत के लिए अब तक के इतिहास में सबसे बेहतर यूएस प्रेजिडेंट साबित होंगे। उनका हना है कि हाल ही में पाकिस्तान पर आतंकवादियों को पनाह देने के मामले में दबाव बनाने के बाद अब भारत और अमेरिका को साथ मिलकर पाकिस्तान के परमाणु जखीरे पर हमला कर के उसे तबाह कर देना चाहिए।  75 वर्षीय लैरी चर्चित प्रेसलर संशोधन के लिए जाने जाते हैं जिसके तहत 1990 में पाकिस्तान को दी जाने वाली अमेरिकी सैन्य सहायता पर रोक लगी थी। रिपब्लिकन रहे प्रेसलर ने अपनी किताब ‘नेबर्स इन आर्म्स’ में अमेरिकी विदेश नीति में आए बदलावों पर चर्चा की है जिसके जरिए पाकिस्तान न्यूक्लियर हथियार विकसित कर पाया है। प्रेसलर काफी समय से रिपब्लिकन पार्टी से खुद को अलग कर चुके हैं। उन्होंने साल 2014 में निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ा था और साल 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में हिलरी क्लिंटन को समर्थन दिया था। ट्रंप से कई मतभेदों के बावजूद लैरी को लगता है कि ट्रंप इतने भी बुरे नहीं हैं जितना उनको यूएस मीडिया बताती है।

 लैरी कहते हैं, ‘आतंकवादियों के सुरक्षित पनाहगाह बनने पर पाकिस्तान को ट्रंप की चेतावनी, अमेरिकी सहायता को आतंकवादियों पर पाकिस्तानी कार्रवाई से जोड़ना और ट्रंप की भारत से अफगानिस्तान में भूमिका बढ़ाने का निवेदन इसी बात का संकेत हैं कि रिश्तों को फिर से गढ़ने की शुरुआत हो गई है।’

लैरी ने कहा, ‘अमेरिका को पाकिस्तान को एक आतंकवादी देश घोषित करना चाहिए, सभी तरह की आर्थिक मदद पर रोक लगानी चाहिए। साथ ही भारत और पाकिस्तान को एक तरह आंकना बंद कर देना चाहिए। भारत लोकतंत्र है पाकिस्तान नहीं और पाकिस्तान खासतौर पर ISI अमेरिका से सालों से झूठ बोलता आ रहा है।’ लैरी ने पीएम मोदी की भी तारीफ की और कहा, ‘सारा श्रेय पीएम मोदी की सरकार को जाता है क्योंकि उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ सख्त कदम उठाया है।’लैरी ने कहा कि 2002 के गुजरात दंगों के बाद नरेंद्र मोदी को वीजा न देना यूएस पर दाग की तरह है।

इससे पहले डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि वह राष्ट्रपति बने तो भारत अमेरिका का सबसे अच्छा मित्र बनेगा। दोनों देशों का भविष्य साथ बनेगा। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को महान नेता बताया था. ट्रंप ने कहा, वह हिंदुओं के बहुत बड़े प्रशंसक हैं। भारत का सम्मान करते हैं। वह अद्भुत देश है और वहां के लोग भी अद्भुत हैं। उन्होंने इस्लामिक आतंकवाद से भारत की लड़ाई का समर्थन किया। कहा राष्ट्रपति बनने पर वह इसमें सहयोग को बढ़ाएंगे। चुनाव जीतने पर वह ह्वाइट हाउस को हिंदुओं के लिए मित्रता की खास जगह बनाएंगे।

TOPPOPULARRECENT