Sunday , September 24 2017
Home / Delhi News / ट्रम्प – मोदी हिटलर और मुसोलीनी जैसे घातक साबित होंगे, गांधी अौर मौलाना अाजाद की ज़रूरत अाज है- शहज़ाद पूनावाला

ट्रम्प – मोदी हिटलर और मुसोलीनी जैसे घातक साबित होंगे, गांधी अौर मौलाना अाजाद की ज़रूरत अाज है- शहज़ाद पूनावाला

अब्दुल हमीद अंसारी, नई दिल्ली। भारत रत्न मौलाना अबुल क़लाम आजाद की 128वें जन्मदिन के अवसर पर “कैंडल वाक फॉर एजुकेशन एंड युनिटी” का अायोजन किया जा रहा है। यह प्रोग्राम “मौलाना अबुल कलाम आजाद फाउंडेशन” के जानिब आयोजित किया जाएगा। इस प्रोग्राम में कांग्रेस के युवा नेता और महाराष्ट्र कांग्रेस में सचिव शहज़ाद पूनावाला मेहमान खसूसी के रुप में शामिल हो रहे हैं।

शहजाद पुनावाला के अलावा मौलाना देहलवी, मुशावरत के नावेद हमीद अौर अन्य दानिश्वर शिरकत करेंगे। इस प्रोग्राम को लेकर सियासत हिंदी अॉनलाईन से शहज़ाद पूनावाला की बातचीत हुई। अमेरिकी चुनाव में ट्रंप की जीत पर एक सवाल के जवाब में शहजाद पुनावाला ने कहा “ट्रंम्प का चुने जाना अमरीका के उदार , प्रगतीशील ज़मूरियात के लिए बड़ी शर्म की बात है।
अमेरिका में ट्रंम्प और यहां भारत में मोदी, दोनो ने ही कौंमों के बीच दीवारें पैदा की, कुछ कौंमों या नस्लों को निशाना बना कर अौर बहुसंख्यकों के मन में नफ़रतों को बढ़ावा देकर हुकूमत हासिल कर ली।

मगर लोकतंत्र के लिए ये घातक साबित होंगे । मोदी किस तरह से मीडिया की अाजादी अौर अन्य लोकतांत्रिक संस्थानों पर हमला कर रहा है जगज़ाहिर है। ट्रंम्प ने महिलाअों अौर मुसलमानों के बारे में जो कहा है उससे उसका सेक्सिस्ट अौर रेसिस्ट चेहरा हमारे सामने है। क्या ऐसे व्यक्ति का जो अपने ट्विटर पर अनाब-शनाप लिखता हो, जो अपनी बेटी पर भद्दे कमेंट करता हो उसकी मानसिक स्तिथी पर एतबार किया जा सकता है? अौर उसे न्यूक्लिअर कोड देना-क्या यह डरावना मंज़र नहीं है?

कही मोदी अौर ट्रंम्प मिलकर हिटलर मुसोलीनी की तरह दुनिया को एक अौर विश्वयुद्ध की तरफ़ न ले जाए। यह दोनों की मानसिकता तानाशाहों की तरह ही है। ”

सूत्रों के हवाले से पता चल रहा है की कल का प्रोग्राम 7 बजे शुर होगा । मौलाना अाजाद के मकबरे से मार्च करते हुए प्रोग्राम में शामिल सभी मेहमान जामा मस्जिद पर एक जलसे में हिस्सा लेंगे। जिसमें पूनावाला मौ अाजाद के जंग- ए- अाजादी में किरदार पर रोशनी डालेंगे ।
img_9580
पिछले महीने शहजाद पूनावाला ने सर सय्यद की शान में भी एक कार्यक्रम किया था। शहजाद पुनावाला द्वारा चलाए जा रहे एतिहासिक मुस्लिम शक्सियतों को सम्मान दिलवाने की मुहीम कारगर साबित हो रही है। ख़ास कर तब जब बीजेपी के द्वारा टिपू सुल्तान से लेकर तमाम मुस्लिम विद्वानों को इतिहास के पन्नों से ग़ायब किया जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT