Monday , August 21 2017
Home / Khaas Khabar / डाँक्टर अब्दुल कलाम की क़ियामगाह का तख़लिया

डाँक्टर अब्दुल कलाम की क़ियामगाह का तख़लिया

नई दिल्ली: मर्कज़ी वज़ीर सयाहत-ओ-सक़ाफ़्त महेश शर्मा को साबिक़ सदर जम्हुरिया ए पी जे अब्दुल कलाम का बंगला मुख़तस किया गया , डाँक्टर अब्दुल कलाम साल 2007 में सदर जम्हूरिया की हैसियत से मीआद मुकम्मल कर लेने के बाद 10 राजा जी मार्ग की क़ियामगाह मुंतक़िल हो गए थे।

वज़ारत शहरी तरक़ियात ने अब ये बंगला महेश शर्मा के लिये मुख़तस किया है जो कि सेक्टर 5 नोएडा में अपने ज़ाती मकान में क़ियाम पज़ीर थे। डाँक्टर अब्दुल कलाम के दोस्त-ओ-अहबाब के इस मुतालिबे पर राजा जी मार्ग की क़ियामगाह एक यादगार में तब्दील कर दी जाये।

मिस्टर महेश शर्मा ने कहा कि हुकूमत की ये पॉलीसी है कि क़दीम इमारतों को मेमोरियल में तब्दील ना किया जाये क्यों कि राष्ट्रीय लोक दल लीडर अजीत सिंह ने भी मुतालिबा किया है कि तुग़ल्लुक़ रोड पर वाक़्य उनके वालिद चरण सिंह की क़ियामगाह को यादगार में तब्दील कर दिया जाये लेकिन उसे क़ुबूल नहीं किया गया।

साबिक़ सदर जम्हूरिया की क़ियामगाह का 31 अक्टूबर 2015 तक तख़लिया कर दिया जाएगा और उनकी अशिया-ए-बिशमोल नायाब कुतुब , वीना ( मूसीक़ी का साज़ ) उनके आबाई मकान रामेश्वरम् मुंतक़िल किया जाएगा। मिस्टर महेश शर्मा ने बताया कि 11 माह की कोशिशों के बाद उन्हें सरकारी रिहायश हासिल हुई।

क़बल अज़ीं 7 त्याग राज मार्ग पर एक मकान मुख़तस किया गया था लेकिन इस के मकीनों ने इसरार के बावजूद तख़लिया नहीं किया था ।

TOPPOPULARRECENT