Friday , September 22 2017
Home / Crime / डॉक्टर बंसल की हत्या पर उठे सवाल- 150 सिक्योरिटी गार्ड, आठ बाउंसर फिर हमलावर कैसे भागा?

डॉक्टर बंसल की हत्या पर उठे सवाल- 150 सिक्योरिटी गार्ड, आठ बाउंसर फिर हमलावर कैसे भागा?

इलाहाबाद। उत्तर प्रदेश स्थित इलाहाबाद के मशहूर डा. एके बंसल की देररात ही इलाज के दौरान मौत होगई। लेकिन फिल्मी स्टाइलमें गोली मारकर की गई हत्या पहले से लिखी स्क्रिप्ट सी लगती है। जहां इतनी भारी सुरक्षा होने के बावजूद दोहमलावरों ने गोली मारी और आराम से भाग निकले। जिस जीवन ज्योति अस्पताल में डा. एके बंसल मरीजों को देखते हैं उस अस्पताल की सुरक्षा किसी छावनी सरीखी है। तीन शिफ्टों में 150 सिक्योरिटी गार्ड अस्पताल में 24 घंटे पहरा देते हैं।

जबकि फुल ट्रेंड 8 बाउंसर भी अस्पताल में रहते हैं। इसके अलावा यहां कर्मचारियों की संख्या सैकड़ों में है और पूरे अस्पताल में सीसीटीवी कैमरे लगे हुये हैं। पर विडंबना देखिये या शार्प शूटरों का प्लान कि डा. बंसल को वहां गोली मारी गई। जिस चैंबर में डाक्टर बंसल बैठते तो थे लेकिन वहां ना तो कमरे के अंदर सीसीटीवी कैमरा था ना ही दरवाजे पर। हालांकि गलियारे में लगे एक सीसीटीवी कैमरे का थोड़ा रुख उनके चैंबर के दरवाजे की तरफ था।

शातिर बदमाशो ने बड़ी ही बारीकी से न सिर्फ रेकी की थी बल्कि फुल प्रूफ प्लान भी बनाया था। लेकिन अब जब पुलिस सीसीटीवी से शातिरों तक पहुंचने का प्लान बना रही थी तो वह भी आश्चर्यचकित रह गई है। अधिकांश सीसीटीवी कैमरे खराब हैं। जबकि एक सीसीटीवी कैमरा बंद भी मिला। ऐसे में सीसीटीवी कैमरे का बंद होना भी प्लान का अंश ही माना जा रहा है। जिसमे किसी कर्मचारी के शामिल होने का शक है। क्योंकि ऐसे कैमरा बंद या खराब होना सामान्य बात नहीं हो सकती। शूटरों को अस्पताल की तकनीकी सुरक्षा की भी जानकारी उपलब्ध करायी गयी थी। मामले की तहकीकात में एसटीएफ की टीम लगा दी गई है। जिसने आज कर्मचारियों से पूछताछ की।

डा. बंसल के खिलाफ भी जिले के कई थानों में 14 मुकदमे दर्ज हुए हैं। उनके विरुद्ध मारपीट, धमकी, धोखाधड़ी, जालसाजी, जमीन का फर्जी बैनामा कराने समेत अन्य धाराओं में एफआइआर हुई थी। पुलिस रिकार्ड में उनकी दुश्मनी कई नामचीन बिल्डर, कारोबारी और भू-माफियाओं से भी थी। डॉक्टर ने भी बेटे को मेडिकल में दाखिला दिलाने वाले दिल्ली के एक शख्स समेत कई लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। फिलहाल पुलिस, बंसल की हत्या का हर पहलू देख रही है।

TOPPOPULARRECENT