Tuesday , September 26 2017
Home / International / डोनल्ड ट्रंप ने कहा था औरतों को छूना अच्छा लगता है और अब मांगी माफी

डोनल्ड ट्रंप ने कहा था औरतों को छूना अच्छा लगता है और अब मांगी माफी

clinton-trump-handshake-xlarge_transawl7-iarngo_0m0utg4ltytzqsuaunwhg0s9tq6lk9a

अमेरिकी राष्ट्रपति के दौर में रिब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार डोनल्ड ट्रंप ने महिलाओं पर अपने अश्लील टिप्पणी को लेकर माफी मांगी है। कुछ दिन पहले ट्रंप का एक वीडियो सामने आया था जिसमें उन्होंने महिलाओं के बारे में आपत्तिजनक बात कही थी। दूसरी टेलीविजन बहस के दौरान सेंट लुइस के वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी में उन्होंने अपने उस टिप्पणी के लिए खेद जाताया। बहस के दौरान डेमोक्रैट उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन ट्रंप निशाना साधा और कहा कि डोनल्ड ट्रंप ने महिलाओं के बारे जिस तरह की भद्दी टिप्पणी की है उसके बाद वो राष्ट्रपति बनने लायक नहीं हैं।

उसके बाद डोनाल्ड ट्रंप ने अपने उन शब्दों के लिए माफ़ी मांगी और कहा कि मुझे अपने उस बयान को लेकर कोई गर्व नहीं है। मैं उस बात को लेकर शर्मींदा हूं। लेकिन वह बातचीत एक बंद कमरे में हुई थी। ट्रम ने कहा कि उनके मन में महिलाओं को लेकर बहुत सम्मान हैं। उसके बाद ट्रंप ने हिलेरी क्लिंटन के पति और अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन पर निशाना साधा और कहा कि वो भी बुरे व्यक्ति थें।

इसके बाद हिलेरी ने कहा कि जिस प्रकार से वीडियो दीखता है उससे साफ है डोनल्ड ट्रंप राष्ट्रपति पद के काबिल नहीं हैं। हिलेरी ने अपने भाषणों में गोल्ड स्टार कैटन ख़ान के परिवार पर की गई टिप्पणी। एक पत्रकार का मजाक उड़ाने और राष्ट्रपति बराक ओबामा के अमरीका में पैदा न होने पर की गई उनकी बयानों पर चर्चा की। तो दूसरी तरफ ट्रंप ने हिलेरी के ईमेल प्रकरण को उठाया। ट्रंप ने हिलेरी से कहा कि आपको इसके लिए शर्म आनी चाहिए।

इसके बाद हिलेरी ने ईमेल को मिटाने की अपनी भूल स्वीकार की और कहा कि वो इसकी जिम्मेदारी लेती हैं। उन्होंने कहा कि इससे कोई भी क्लासीफाइड फाइल सार्वजनिक नहीं हुई और न ही किसी प्रकार की जानकारी ग़लत हाथों में गई। उसके बाद ट्रंप ने राष्ट्रपति बराक ओबामा की योजनाओं को महाविपदा बताया और कहा कि अगर वो राष्ट्रपति बने तो वह उसे बंद करेंगे।

हिलेरी ने आरोप लगाया कि रूस चुनाव परिणामों को प्रभावित करने का प्रयास कर रहा है और उसकी कोशिश है कि ट्रंप किसी भी प्रकार से चुनाव जीत जाएं। इसका जवाब देते हुए ट्रंप ने कहा कि वो पुतिन को नहीं जानते। पर उन्होंने कहा कि यह अच्छा होगा कि अमरीका तथाकथित इस्लामिक स्टेट (आईएस) को हराने के लिए रूस के साथ मिलकर काम करे। उसके बाद उन्होंने लीबिया, सीरिया और इराक़ में हस्तक्षेप को लेकर हिलरी नीतियों की आलोचना की।

 

TOPPOPULARRECENT