Monday , October 23 2017
Home / Bihar News / तमाम पसमानदा, अक़लियत गरीब एक हों हम जीतेंगे : लालू

तमाम पसमानदा, अक़लियत गरीब एक हों हम जीतेंगे : लालू

राष्ट्रीय जनता दल के क़ौमी सदर लालू प्रसाद ने तमाम पसमानदा और गरीबों को एकजुट होने का एलान किया है। प्रजापति (कुम्हार) सियासी रैली में लालू प्रसाद ने कहा कि आज मांग करने का वक़्त नहीं, लेने का वक़्त है। पूरा मुल्क आज बिहार को देख रहा है

राष्ट्रीय जनता दल के क़ौमी सदर लालू प्रसाद ने तमाम पसमानदा और गरीबों को एकजुट होने का एलान किया है। प्रजापति (कुम्हार) सियासी रैली में लालू प्रसाद ने कहा कि आज मांग करने का वक़्त नहीं, लेने का वक़्त है। पूरा मुल्क आज बिहार को देख रहा है। तमाम पसमानदा जात और गरीब मुत्तहीद हो जाएं।

हमलोग दो तिहाई अकसरियत से एसेम्बली इंतिख़ाब जीतेंगे और बिहार से ही नरेंद्र मोदी की हार की शुरुआत होगी। एसेम्बली इंतिख़ाब के लिए कम वक़्त है। कई लोग एहतेजाज़ करेंगे, लेकिन असल घर यही है, जहां लालू प्रसाद व नीतीश कुमार हैं। पटना के गांधी मैदान में मुनक्कीद इस रैली में वजीरे आला नीतीश कुमार के नहीं आने पर उन्होंने कहा कि वो आएं, चाहे नीतीश आएं,बराबर है। हमलोग (जनता परिवार) मुत्तहीद हो गये हैं। इसमें कोई कंफ्यूजन नहीं है। पहले भाजपावाले लालू व पसमानदा के राज को जंगलराज कहते थे। अब जब राजद, जदयू और जनता परिवार के दीगर पार्टी मिल गये हैं, तो जंगलराज पार्ट टू कह रहे है। भाजपा के अंदर धुकधुकी समा गयी है। वे लोग घबरा गये हैं। लोकसभा इंतिख़ाब के वक़्त कहा जाने लगा कि चाय बेचनेवाले का बेटा वजीरे आजम बनेगा। किसी ने नरेंद्र मोदी को चाय बेचते हुए देखा था क्या? यह आरएसएस ने इश्तिहार किया। कहा गया कि अच्छे दिन आयेंगे, ब्लैक मानी आयेगा। जड़ी-बूटी बेचनेवाले रामदेव बाबा भी कहते थे कि भाजपा की हुकूमत बनीं, तो एक महीने में ब्लैक मानी आयेगा। एक साल हो गया, कहां गया ब्लैक मनी ? लड़का-लड़की सबने टीवी पर देखा और कहा कि मम्मी-पापाजी अबकी बार मोदी सरकार। ब्लैक मनी आयेगा, तो घर के एक-एक मेम्बर को करीब 15 लाख रुपये मिलेंगे। काम करने की जरूरत ही नहीं। दो
करोड़ लोगों को नौकरी देने की बात हुई, लेकिन नौकरी देनी तो दूर, छंटनी हो रही है। अब उनके लोग उसे जुमला कह रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने पसमानदा की हक की बात की, गाय चरानेवालों, कपड़ा धोनेवालों पढ़ना-लिखना सीखो, यह कहना जुर्म है। सामाजिक इंसाफ की बात करना ही मेरा जुर्म था।
भाजपा के लीडर लालकृष्ण आडवाणी के रथ को हमने रोका था और दंगा नहीं होने दिया था। तावा पर रोटी एक तरफ जल रही है, हमने ही उसे पलटने का काम किया था, यही मेरा कसूर था।

वोट देने का हक़ छीनना चाहती है शिवसेना

राजद सरबराह ने कहा कि शिवसेना भाजपा की पार्टनर है। कहती है कि मुसलिम व इसाई को वोटिंग राइट छीन लेना चाहिए। कल कहेगी कि प्रजापति व पसमानदा को वोट देने का हक़ छीन लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि हुकूमत में आने से पहले कहते थे कि पाकिस्तान व चीन आंख नहीं दिखायेगा। जम्मू कश्मीर में क्या हो रहा है। पाकिस्तान जिंदाबाद से लेकर पाक का झंडा प्यारा का नारा लग रहा है। चीन भी भारत के 10 किलोमीटर अंदर घुस गया है और वजीरे आजम मोदी बाइरून मुल्क का दौरा कर रहे हैं। आओ, बाइरून मुल्की आओ, सरमायाकारी करो कर रहे हैं। लालू ने कहा कि समाज में अयोध्या से साधु छूटे हुए हैं। गांव-गांव में महायज्ञ चल रहा है। शिव चर्चा हो रही है। अच्छा साधु-संत बहुत कम हैं, ज़्यादातर नकली हैं। एक अपने आप को साधु कहते थे, लेकिन वे जेल में बंद हैं।

लालू प्रसाद ने कहा कि बिना पूंछवाला फोन मोबाइल है। ये सारा खेल खराब किये हुए है। भाई रामविलास जी कहते थे कि करोड़ों को मोबाइल दे दिये हैं। अब हेलो-हेलो करते रहिए। दिल्ली-मुंबई से बैठ कर डील कर रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT