Tuesday , July 25 2017
Home / India / तमिलनाडु: बहुमत साबित करने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र शुरू, पलानी स्वामी ने पेश किया विश्वासमत

तमिलनाडु: बहुमत साबित करने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र शुरू, पलानी स्वामी ने पेश किया विश्वासमत

चन्नई: तमिलनाडु में विश्वास मत साबित करने के लिए विधान सभा का विशेष सत्र शुरू हो चूका है. मुख्यमंत्री ई के पलानी स्वामी आज विश्वासमत हासिल करेंगे और अगर कोई बड़ा उलटफेर नहीं हुआ तो पलानी स्वामी सरकार बहुमत साबित करने में कामयाब रहेगी.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

अमर उअजाला के अनुसार, तमिलानाडु विधानसभा के सभी दरवाजे बंद कर दिए गए हैं. विधानसभा अध्यक्ष, पी धनपप्ल ने अपने संबोधन में कहा कि ‘मैं विश्वास दिलाता हूं कि विधायकों को उचित सुरक्षा मुहैया कराई जाएगी.’इस के साथ ही नव-निर्वाचित मुख्यमंत्री पलानी स्वामी ने विधानसभा में विश्वासमत प्रस्ताव पेश कर दिया है.
एआईडीएमके विधायक लगभग एक सप्ताह से रिजार्ट में रह रहे थे. आज विधानसभा में होने वाले बहुमत परीक्षण से पहले विधानसभा भवन पहुंच रहे हैं. डीएमके के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन ने आरोप लगाया कि विधायकों को कैदियों की तरह बसों में भरकर लाया जा रहा है.
कांग्रेस ने कहा है कि वह विधानसभा में पलानी स्वामी सरकार के विश्वासमत के खिलाफ मतदान करेगी. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने तमिलनाडु कांग्रेस को निर्देश देते हुए कहा कि कांग्रेस के सभी विधायक विधानसभा में ई के पलानी स्वामी के खिलाफ मतदान करें.

सूत्रों के अनुसार, 234 सदस्यों वाली विधानसभा में पलनी स्वामी के कथित समर्थक विधायकों की संख्या 123 बताई जा रही है. अन्नाद्रमुक ने वरिष्ठ पार्टी नेता के ए सेनगोट्टायन को सदन में पार्टी का नेता चुना है.
उधर, द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन ने कहा कि उनकी पार्टी आज पलानी स्वामी सरकार के विश्वासमत के खिलाफ मतदान करेगी.
सत्ता संघर्ष के पहले चरण की जंग हार चुके पूर्व मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम हर हाल में अंतिम बाजी जीतना चाहते हैं. ऐसे में उन्होंने प्रदेश के सभी विधायकों से अपील की है कि वे पलानी स्वामी के खिलाफ मतदान करें.
बता दें कि तमिलनाडु विधानसभा में पिछले 29 साल में यह पहला मौका है जब सरकार इस तरह से सदन में बहुमत साबित करेगी.

TOPPOPULARRECENT