Thursday , October 19 2017
Home / India / तय्यारा इंजीनिरिंग सौदे में रिश्वतखोरी के इल्ज़ामात

तय्यारा इंजीनिरिंग सौदे में रिश्वतखोरी के इल्ज़ामात

वज़ीरे दिफ़ा ए के एंटोनी ने इंजन तय्यार करनेवाली आलमी कंपनी की जानिब से हिन्दुस्तानी दिफ़ाई ओहदेदारों को 2007 से 2011तक के कंट्टर एक्ट हासिल करने के लिए 10 हज़ार करोड़ रुपये से ज़्यादा मालियती कंट्राक्टस के लिए रिश्वत देने के इल्ज़ामात की स

वज़ीरे दिफ़ा ए के एंटोनी ने इंजन तय्यार करनेवाली आलमी कंपनी की जानिब से हिन्दुस्तानी दिफ़ाई ओहदेदारों को 2007 से 2011तक के कंट्टर एक्ट हासिल करने के लिए 10 हज़ार करोड़ रुपये से ज़्यादा मालियती कंट्राक्टस के लिए रिश्वत देने के इल्ज़ामात की सी बी आई तहकीकात करने का हुक्म दिया है।

हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड को हाल ही में एक खत‌ मौसूल हुआ है जिस में इल्ज़ाम आइद किया गया है कि एच ए एल और दीगर मुताल्लिक़ा महिकमों के ओहदेदारों को कंट्राक्टस के हुसूल के लिए रिश्वत दी गई है। एच ए एल ने इल्ज़ामात की चीफ वेजलन्स ऑफीसर के ज़रीये फ़ौरी तहकीकात का आग़ाज़ करवा दिया था जिस से इल्ज़ामात के ठोस होने की तौसीक़ होगई।

सी वी सी ने बादियुन्नज़र में पता चलाया था कि कंपनी पहले भी कई माहदाती ज़िम्मेदारीयों की ख़िलाफ़वरज़ी करचुकी है। इन्किशाफ़ात और एच ए एल की सिफ़ारिशात के बाद वज़ीरे दिफ़ा अनटोनी ने मुक़द्दमे की तहकीकात सी बी आई के सुपुर्द करदेने का हुक्म दिया है। इस तबदीली के बाद हिन्दुस्तानी फ़िज़ाईया के कई प्रोग्रामों में ताख़ीर होने का इमकान है।

TOPPOPULARRECENT