Wednesday , August 23 2017
Home / Delhi News / तलबा-ए-तंज़ीम लीडर की गिरफ़्तारी के पस-ए-पर्दा साज़िश

तलबा-ए-तंज़ीम लीडर की गिरफ़्तारी के पस-ए-पर्दा साज़िश

पटना बेगूसराय: सदर जेएनयू स्टूडेंटस यूनियन कन्हैया कुमार की गिरफ़्तारी को चीफ़ मिनिस्टर नीतीश कुमार की तरफ‌ से हक़बजानिब क़रार दिए जाने के एक दिन बाद सीनियर पार्टी लीडर ने आज बेगूसराय में उनके आबाई मकान का दौरा किया और बताया कि कन्हैया कुमार की गिरफ़्तारी की साज़िश से मर्कज़ में बीजेपी हुकूमत की कारसतानियां बे-नक़ाब हो गई हैं।

जनता दल मुत्तहदा के तर्जुमान और रुकन क़ानूनसाज़ काउंसिल नीरज कुमार ने मधु सदन पूरा में कन्हैया के मकान पहुंच कर उनके अफ़रादे ख़ानदान से इज़हार्रे यगानगत किया। इस गांव में जल्सा-ए-आम को मुख़ातिब करते हुए उन्होंने स्टूडेंटस यूनीयन सदर की पुरज़ोर हिमायत की और उनकी फ़ील-फ़ौर रिहाई का मुतालिबा किया।

मिस्टर नीरज कुमार ने कहा कि बाज़ नागहानी हालात से कन्हैया कुमार को क़सूरवार ज़ाहिर किया है जबकि वो यूनीवर्सिटी में क़ियाम अमन की कोशिश के लिए अब वो किसी क़ौम दुश्मन सरगर्मीयों में शामिल‌ नहीं थे। अगर कन्हैया की गिरफ़्तारी के120 घंटे गुज़र चुके हैं , उनके ख़िलाफ़ एक भी सबूत मंज़र-ए-आम नहीं आया लाया गया।

जनता दल मुत्तहदा के लीडर ने ये मुतालिबा किया। सदर स्टूडेंटस यूनीयन के ख़िलाफ़ सबूत पेश किया जाये या फिर ग़द्दारी के इल्ज़ामात से दसतबरदारी इख़तियार की जाये। उन्होंने बताया कि कन्हैया कुमार , मुजाहिदन आज़ादी बिशमोल सीपीआई क़ाइदीन चन्द्र शेखर सिंह और राम चरित्रा सिंह के ख़ानदान से ताल्लुक़ रखते हैं|

TOPPOPULARRECENT