Tuesday , October 24 2017
Home / Crime / तलवार जोड़ा हेमराज की मौत से वाक़िफ़ था : सी बी आई

तलवार जोड़ा हेमराज की मौत से वाक़िफ़ था : सी बी आई

आरूशी । हेमराज क़तल केस में इस्तिग़ासा ने ख़ुसूसी सी बी आई अदालत को बताया कि राजेश और नुपूर तलवार अपने घरेलू मददगार की मौत के ताल्लुक़ से पहले ही वाक़िफ़ था इस के कि उसकी नाश वारदात के एक रोज़ बाद बालाखाना में पाई गई।

आरूशी । हेमराज क़तल केस में इस्तिग़ासा ने ख़ुसूसी सी बी आई अदालत को बताया कि राजेश और नुपूर तलवार अपने घरेलू मददगार की मौत के ताल्लुक़ से पहले ही वाक़िफ़ था इस के कि उसकी नाश वारदात के एक रोज़ बाद बालाखाना में पाई गई।

क़तई बेहस के मुतवातिर दूसरे रोज़ सी बी आई वकील बी के सिंह ने अदालत को बताया कि 16 मई 2008 को राजश ने नोयडा सेक्टर 20 पुलिस स्टेशन में सुबह 7-10 बजे शिकायत दर्ज कराते हुए बयान किया था कि वो (राजेश), अहलिया नुपूर और बेटी आरूशी इस के अपने मकान में मुक़ीम हैं जबकि हेमराज भी उसी की क़ियामगाह में रहता था।

सी बी आई वकील ने कहा, रहता था के अलफ़ाज़ से इशारा मिलता है कि राजेश को पहले ही मालूम था कि हेमराज ज़िंदा नहीं। तलवार ने ये भी कहा था कि हेमराज उसकी बेटी का क़तल करने के बाद फ़रार हो गया जो राजेश को सुबह जागने पर मालूम हुआ। वकील ने ये भी कहा कि आरूशी के कमरे में कोई ज़बरदस्ती दाख़िल ना हुआ क्योंकि वो पहले से ही खुला था। ऐडीशनल सेशन्स जज श्याम लाल की अदालत ने मज़ीद समाअत 15 अक्तूबर को मुक़र्रर की।

TOPPOPULARRECENT