Tuesday , October 17 2017
Home / Crime / तेजपाल को मिलीं तीन हफ्ते की आबूरी जमानत

तेजपाल को मिलीं तीन हफ्ते की आबूरी जमानत

एक खातून सहाफी से बलात्कार के इल्ज़ाम का सामना कर रहे तहलका के बानी तरुण तेजपाल को अपनी मां के आखिरी रसूमात में शामिल होने के लिए सुप्रीम कोर्ट से तीन हफ्ते की आबूरी जमानत तो मिल गई लेकिन जमानत की फार्मालिटीज पूरी करने में हुई देरी

एक खातून सहाफी से बलात्कार के इल्ज़ाम का सामना कर रहे तहलका के बानी तरुण तेजपाल को अपनी मां के आखिरी रसूमात में शामिल होने के लिए सुप्रीम कोर्ट से तीन हफ्ते की आबूरी जमानत तो मिल गई लेकिन जमानत की फार्मालिटीज पूरी करने में हुई देरी की वजह से वह वक्त पर आखिरी रसूमात में शामिल नहीं हो सके.

तेजपाल के वकील संदीप कपूर ने जब जस्टिस बी एस चौहान और जस्टिस ए के सीकरी कीबेंच को बताया कि उनके मुवक्किल की मां की कल गोवा में मौत हो गई और उन्हें आखिरी रसूमात में शामिल होने की इजाजत दी जाए तो अदालत ने पांच महीने गोवा की एक जेल में बंद तेजपाल को जमानत दे दी |

तेजपाल की मां शकुंतला तेजपाल (87) की कल शाम शुमाली गोवा के मोइरा गांव वाके अपने रिहायशगाह पर मौत हो गई थी शकुंतला ब्रेन ट्यूमर से जूझ रही थीं खानदान वालों और करीबी दोस्तों की मौजूदगी में सेंट आइनेज वाके एक हिंदू शवदाहगृह में तेजपाल की मां की आखिरी रसूमात किया गया.

तेजपाल वक्त से आखिरी रसूमात में नहीं पहुंच सके क्योंकि गोवा के वॉस्को टाउन वाके सदा सब-जेल में जमानत की पार्मिलिटीज पूरी करने में उन्हें देर हो गई | वह शाम तकरीबन 7:15 बजे शवदाहगृह पहुंचे जहां उनके भाई मिंटी तेजपाल शाम छह बजे अपनी मां के जस्दे खाका को मुखाग्नि दे चुके थे | इससे पहले कल दिन में बें ने कहा कि इस मामले की फाइल उसके सामने नहीं है और वह फाइल देखने के बाद ही मामले पर गौर करेगी |

50 साल के तेजपाल के खिलाफ पिछले साल गोवा में एक तकरीब के दौरान अपनी साथी खातून सहाफी से मुबय्यना तौर पर रेप , जिंसी इस्तेहसाल करने के सिलसिले में दरखास्त दाखिल किया जा चुका है तेजपाल को 30 नवंबर 2013 को गिरफ्तार किया गया था. उन पर सात नवंबर को मुतास्सिरा का ज़िंसी इस्तेहसाल करने और अगले दिन इस जुर्म को दोहराने का इल्ज़ाम है |

TOPPOPULARRECENT