Sunday , September 24 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना , आंध्र और कर्नाटक के आज़मीन के लिए अलाहिदा शेडूल की तैयारी

तेलंगाना , आंध्र और कर्नाटक के आज़मीन के लिए अलाहिदा शेडूल की तैयारी

हैदराबाद 23 अगस्त: हज 2015 के लिए सेंट्रल हज कमेटी ने तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के आज़मीन की रवानगी से मुताल्लिक़ शेडूल जारी कर दिया है। 2 सितंबर से आज़मीने हज्ज की परवाज़ों का आग़ाज़ होगा और तेलंगाना के आज़मीन पहले मरहले में रवाना होंगे जबकि दूसरे मरहले में आंध्र प्रदेश और कर्नाटक के आज़मीन को रवाना किया जाएगा।

स्पेशल ऑफीसर हज कमेटी प्रोफेसर एस ए शकूर ने बताया कि सेंट्रल हज कमेटी ने तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक के आज़मीने हज्ज के लिए अलाहिदा शेडूल तैयार किया है। उन्होंने बताया कि ग्रीन, अज़ीज़ ये और रुबात ज़मुरा से ताल्लुक़ रखने वाले आज़मीन की बैयकवक़त रवानगी का नज़म किया गया है ताके जेद्दाह पहुंचने पर आज़मीन को उनके मुताल्लिक़ा मुक़ामात पर मुंतक़िल करने में सहूलत हो।

साबिक़ में तमाम ज़मरों के आज़मीन पर मुश्तमिल फ़्लाईट रवाना की जाती थी लेकिन इस मर्तबा हर ज़मुरा की मुकम्मिल फ़्लाईट रवाना होगी। उन्होंने बताया कि तेलंगाना हज कमेटी के ज़रीए जुमला 5303आज़मीने हज्ज हैदराबाद से रवाना होंगे जिनमें तेलंगाना के आज़मीन की तादाद 2937है।

कर्नाटक के 3 अज़ला से ताल्लुक़ रखने वाले तक़रीबन 700आज़मीन हैदराबाद से परवाज़ करेंगे और अनंतपूर, चित्तूर अज़ला के 540 आज़मीन बैंगलौर से रवाना होंगे।

प्रोफेसर एस ए शकूर के मुताबिक़ 2, 3और 4सितंबर को तेलंगाना के आज़मीन की रवानगी होगी जबकि 5सितंबर से आंध्र प्रदेश के आज़मीन की रवानगी का आग़ाज़ होगा। 6और 7 सितंबर को कर्नाटक के आज़मीन की एक, एक फ़्लाईट रवाना होगी जबकि आख़िरी फ़्लाईट में वेटिंग लिस्ट और दुसरे ज़मुरा जात के आज़मीन रवाना होंगे।

उन्होंने बताया कि 35 फ़ीसद आज़मीन का ताल्लुक़ ग्रीन ज़मुरा से है जबकि 65 फ़ीसद अज़ीज़ ये ज़मुरा से ताल्लुक़ रखते हैं। रुबात में क़ियाम करने वाले आज़मीन 4 सितंबर को रवाना होंगे उनके लिए एक मुकम्मिल फ़्लाईट का इंतेज़ाम किया गया है जबकि माबक़ी आज़मीन का इंतेज़ाम दूसरी फ़्लाईट में किया जाएगा।

उन्होंने ओहदेदारों से कहा कि आज़मीन को सहूलतों की फ़राहमी में कोई कोताही ना की जाये। जारीया साल तेलंगाना से 198 और आंध्र प्रदेश से 223 आज़मीन ने सफ़र हज से दसतबरदारी इख़तियार करली है उनकी जगह दूसरे आज़मीन को मुंतख़ब किया गया है।

तेलंगाना हज कमेटी ने आंध्र प्रदेश हुकूमत के साथ मुआहिदा किया जिसके तहत आंध्र प्रदेश के आज़मीन की ख़िदमत के सिलसिले में मुआवज़ा वसूल किया जाएगा।तआम, क़ियाम और दुसरे सहूलतों की फ़राहमी के लिए चार्जस के अलावा दुसरे ख़िदमात के लिए फी कस 200रुपए चार्ज किए जाऐंगे। आंध्र प्रदेश हुकूमत ने तेलंगाना हज कमेटी को इस सिलसिले में 50लाख रुपए बतौर एडवांस फ़राहम किए हैं।

TOPPOPULARRECENT