Friday , October 20 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना और सीमांध्र में कामयाबी यक़ीनी

तेलंगाना और सीमांध्र में कामयाबी यक़ीनी

वाई एस आर कांग्रेस पार्टी मुजव्वज़ा चुनाव में दोनों रियासतों तेलंगाना और सीमांध्र में भारी अक्सरीयत से कामयाबी हासिल करेगी और वाई एस राज शेखर रेड्डी के सुनहरी दौर का अहया होगा। सदर वाई ऐस आर कांग्रेस पार्टी मिस्टर जगन मोहन रेड्ड

वाई एस आर कांग्रेस पार्टी मुजव्वज़ा चुनाव में दोनों रियासतों तेलंगाना और सीमांध्र में भारी अक्सरीयत से कामयाबी हासिल करेगी और वाई एस राज शेखर रेड्डी के सुनहरी दौर का अहया होगा। सदर वाई ऐस आर कांग्रेस पार्टी मिस्टर जगन मोहन रेड्डी ने खम्मम में जल्सा-ए-आम ( जना भेरी ) से ख़िताब करते हुए ये बात कही। आंधरा प्रदेश की तक़सीम के बाद वाई ऐस आर कांग्रेस का ये पहला जलसा है। जगन मोहन रेड्डी ने अपने ख़िताब में पी सरीनवास रेड्डी को लोक सभा हलक़ा खम्मम से पार्टी उम्मीदवार बनाने का ऐलान किया। उन्हों ने कहा कि सरीनवास रेड्डी की कामयाबी पर मर्कज़ी वज़ारत भी यक़ीनी है।खम्मम में तलंगाना के हामीयों की जानिब से बंद का ऐलान किया गया था लेकिन इस का जलसा पर कोई असर नहीं पड़ा और हज़ारों की तादाद में अवाम ने जलसा में शिरकत की।

मर्कज़ी इलेक्शन कमीशन की तरफ से चुनाव शेडूल की इजराई के तक़रीबन 10 घंटे बाद आंध्र प्रदेश में वाई ऐस आर कांग्रेस पार्टी ने सब से पहला जलसा मुनाक़िद किया और अवाम के दरमयान पहले उम्मीदवार का एलान करते हुए बाक़ायदा चुनाव मुहिम शुरू की।

जगन ने कहा कि इन्हीं तीनों इलाक़ों के तेलुदु अवाम से मुसावियाना मुहब्बत है, वो किसी इलाके के साथ इमतियाज़ रवा नहीं रख सकते। रियासत का बजट सारे मुल्क में मिसाली हैसियत रखता है इस के अलावा तेलुगु अवाम का इत्तेहाद भी मुतास्सिरकूण रहा है।

उन्होंने रियासत की तरक़्क़ी और अवाम की ख़ुशहाली के लिए आंध्र प्रदेश को मुत्तहिद रखने की ताईद की थी लेकिन हुक्मराँ कांग्रेस और अप्पोज़ीशन बी जे पी ने मैच फिक्सिंग करते हुए रियासत को तक़सीम कर दिया।

उन्होंने कहा कि आंध्र प्रदेश की तक़सीम में तेलुगु देशम ने भी अहम रोल अदा किया। उन्होंने कहा कि सियासी मुफ़ादात की ख़ातिर महिज़ चुनाव से एक माह पहले रियासत को तक़सीम किया गया है और हालात को कशीदा बनादिया गया जिस से उन्हें अवाम से रुजू होने का मौक़ा फ़राहम होसके।

जगन मोहन रेड्डी ने इन सियासी जमातों को सबक़ सिखाने की अवाम से अपील की। उन्होंने कहा कि एक साज़िश के तहत रियासत की तक़सीम-ए-अमल में लाई गई है इस के बावजूद कोई भी जमात तेलुगु अवाम को तक़सीम नहीं करसकेगी। तलगो अवाम की दो रियास्तें बन गई हैं लेकिन वो एक दूसरे से जुदा नहीं हैं। उन्हों ने कहा कि वो एक ऐसा साज़गार माहौल तैय्यार करेंगे

TOPPOPULARRECENT