Monday , August 21 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना काबीना का तीन माह बाद आज पहली मीटिंग

तेलंगाना काबीना का तीन माह बाद आज पहली मीटिंग

हैदराबाद 02 सितंबर: तेलंगाना काबीना की मीटिंग आख़िर-ए-कार तीन माह के वक़फे के बाद मुनाक़िद होगाइ और ये मीटिंग चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ के दौरा चीन से एन क़बल मुनाक़िद हो रहा है।हुकूमत ने मीटिंग के लिए एजंडे को क़तईयत दे दी लेकिन इस में 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात की अदम शमूलीयत से अक़लियतों को मायूसी हुई है।

काबीना की आख़िरी मीटिंग 10 जून को मुनाक़िद हुवी था जिसके बाद दो मर्तबा मीटिंग को मुल्तवी किया गया। मुख़्तलिफ़ सरकारी इसकीमात और फ़लाही प्रोग्रामों के आग़ाज़ के बहाने काबीनी मीटिंग को मुल्तवी किया जाता रहा। 3 माह के वक़फे के बाद मुनाक़िद होने वाले इस मीटिंग को ग़ैरमामूली एहमीयत हासिल है और हुकूमत ने मीटिंग के लिए जो एजंडे तैयार किया है इस में रियासत को दरपेश कई अहम उमूर् शामिल हैं।

हुकूमत में शामिल वाहिद अक़लियती नुमाइंदा डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर को चाहीए कि वो एजंडे में 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात को शामिल करने की कोशिश करें। चीफ़ मिनिस्टर ने चुनाव से पहले वादा किया था कि बरसर-ए-इक़तिदार आने के चार माह बाद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात पर टामिलनाडु की तर्ज़ पर अमल किया जाएगा लेकिन 16 माह गुज़रने के बावजूद अभी तक इस सिलसिले में कोई पेशरफ़त नहीं हुई है।

हुकूमत ने तहफ़्फुज़ात की सिफ़ारिश के सिलसिले में जो कमीशन आफ़ इन्क्वारी क़ायम किया है उसने तशकील के 6 माह बाद अपनी ज़िम्मेदारी संभाली लिहाज़ा कमीशन आफ़ इन्क्वारी की रिपोर्ट की पेशकशी के लिए वक़्त दरकार होगा।

अगर यही सूरत-ए-हाल रही तो 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात का वादा महिज़ ज़बानी जमा ख़र्च साबित होगा। चीफ़ मिनिस्टर 8 सितंबर को वर्ल्ड इकनॉमिक फ़ोरम के मीटिंग में शिरकत के लिए वुज़रा और ओहदेदारों के 9 रुकनी वफ़द के साथ चीन रवाना होंगे। रियासती वुज़रा के टी रामा राव‌ और जोपली कृष्णा राव‌ को सरकारी वफ़द में शामिल किया गया है।

TOPPOPULARRECENT