Tuesday , October 17 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना का फैसला अब कांग्रेस वर्किंग कमेटी करेगी

तेलंगाना का फैसला अब कांग्रेस वर्किंग कमेटी करेगी

हैदराबाद 13 जुलाई: तेलंगाना मसले पर दो घंटा तक कांग्रेस कोर कमेटी कि मीटिंग के बाद डिगविजय सिंह ने सिर्फ़ एक मिनट में ये फ़ैसला सुना दिया कि कांग्रेस वर्किंग कमेटी कि मीटिंग में फ़ैसला किया जाएगा।

हैदराबाद 13 जुलाई: तेलंगाना मसले पर दो घंटा तक कांग्रेस कोर कमेटी कि मीटिंग के बाद डिगविजय सिंह ने सिर्फ़ एक मिनट में ये फ़ैसला सुना दिया कि कांग्रेस वर्किंग कमेटी कि मीटिंग में फ़ैसला किया जाएगा।

मीटिंग के दौरान चीफ़ मिनिस्टर ने रियासत को मुत्तहिद रखने पर ज़ोर दिया और डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर ने अलहदा रियासत की तशकील का मश्वरह दिया, जबकि सदर प्रदेश कांग्रेस ने फ़ैसले को कांग्रेस हाईकमान पर छोड़ दिया।

दरीं असना कांग्रेस कोर कमेटी कि मीटिंग में तेलंगाना पर कोई फ़ैसला ना करने पर उस्मानिया यूनीवर्सिटी के तलबा की जवाइंट एक्शण कमेटी ने 13 जुलाई को बतौर-ए‍एहतेजाज तेलंगाना में तालीमीइदारा जात बंद मनाने का एलान किया है।

वाज़िह रहे कि तेलंगाना मसले पर आज दिल्ली में वज़ीर-ए-आज़म के घर पर कांग्रेस कोर कमेटी कि मीटिंग मुनाक़िद हुआ, जिस में सदर कांग्रेस सोनीया गांधी, वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह, मर्कज़ी वुज़रा के अनटोनी, सुशील कुमार शिंडे, सोनीया गांधी के सयासी मुशीर अहमद पटेल, कांग्रेस के नायब सदर रहोल गांधी, ग़ुलाम नबी आज़ाद और डिगविजय सिंह ने मीटिंग में शिरकत की।

आंध्र प्रदेश से चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी, डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर दामोधर राज नरसिम्हा और सदर प्रदेश कांग्रेस बी सत्य ना राय‌ना को भी मीटिंग में तलब किया गया था।

पहले सदर प्रदेश कांग्रेस ने अपना तैयार करदा रोड मयाप पेश किया, जिस में तेलंगाना जज़बा का एतेराफ़ करते हुए रियासत को मुत्तहिद रखने पर ज़्यादा से ज़्यादा तरक़्क़ी के मवाक़े दस्तयाब होने का दाव‌ किया और रियासत की तक़सीम के सिलसिले में कांग्रेस हाईकमान का हर फ़ैसला तस्लीम करने का यकिन दिया।

बादअज़ां डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर ने तेलंगाना की ताईद में रोड मयाप पेश किया और रियास्तों की तशकील जदीद के लिए तशकील दी गई फ़ज़ल अली कमीशन रिपोर्ट में अलहदा तेलंगाना रियासत की गुंजाइश का दाव‌ करते हुए शरीफ़ाना मुआहिदा सदारती हुक्मनामा, 610 जी ओ पर अमल आवरी के अलावा दुसरी नाइंसाफ़ीयों का तज़किरा किया।

तेलंगाना रियासत की तशकील में तेलंगाना की तरक़्क़ी के साथ 2014 में पार्टी को होने वाले फ़वाइद से वाक़िफ़ किराया। उन्होंने पानी और बर्क़ी की तक़सीम के अलावा तालीम और मुलाज़मतों पर तफ़सीली रोशनी डाली और अलहदा रियासत की तशकील के लिए हज़ारों तलबा की ख़ुदकुशियों का तज़किरा किया।

जबकि चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी ने तक़रीबन एक घंटे तक रियासत की सूरत-ए-हाल, तेलंगाना तहरीक, हुकूमत की कारकर्दगी, फ़लाही सकीमात पर अमल आवरी, नज़म-ओ-ज़बत के अलावा दुसरे मसाइल पर तफ़सीली रिपोर्ट पेश करते हुए रियासत को मुत्तहिद रखने और तेलंगाना में मुलाज़मतों की फ़राहमी, पर अन्हीता चीवड़ला पराजक्ट को क़ौमी दर्जा देने के अलावा दूसरे उमूर की तकमील के लिए तेलंगाना को पैकेज देने पर ज़ोर दिया।

उन्हों ने रियासत को मुत्तहिद रखने की सूरत में कांग्रेस को दोनों इलाक़ों में सयासी फ़ायदा होने का दाव‌ किया। रिपोर्ट पेश करने के बाद तीनों क़ाइदीन को मीटिंग से रवाना कर दिया गया, ताहम उन्हें कल भी दिल्ली में मौजूद रहने की हिदायत दी गई। ये क़ाइदीन कल सोनीया गांधी और डिगविजय सिंह से अलहदा मुलाक़ात करेंगे।

TOPPOPULARRECENT