Wednesday , August 23 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना की तरक़्क़ी में टीआरएस ही असल रुकावट

तेलंगाना की तरक़्क़ी में टीआरएस ही असल रुकावट

हैदराबाद: टीआरएस अवाम को बताए कि आख़िर वो किस मंशूर पर अमलावरी करेगी चूँकि2014 आम इंतेख़ाबात में चीफ़ मिनिस्टर के चंद्रशेखर राव‌ ने एक मंशूर जारी किया और अब अंदरून दो बरस उनके फ़र्ज़ंद के टी रामा राव‌ ने बलदी इंतेख़ाबात के सिलसिले में एक अलाहदा मंशूर जारी किया है।

मुहम्मद अली शब्बीर क़ाइद अपोज़ीशन तेलंगाना क़ानूनसाज़ काउंसिल ने आज कांग्रेस के मंशूर की इजराई के बाद ज़राए इबलाग़ के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि तेलंगाना की तरक़्क़ी में रुकावट दरअसल बरसर-ए‍-इक्तेदार जमात है। उन्होंने कहा कि टीआरएस में बाप बेटे की जानिब से अलाहदा मंशूर जारी किए जा रहे हैं लेकिन अमलावरी किसी पर नहीं हो रही है।

मुहम्मद अली शब्बीर ने बताया कि टीआरएस का ये कहना कि हज़ार आटो मुसलमानों को दिए जाऐंगे इंतेहाई अफ़सोसनाक बात है। चूँकि टीआरएस मुसलमानों को सिर्फ आटो की हद तक महिदूद रखना चाहती है। इन्होंने कहा कि अगर टीआरएस हुकूमत की तरफ से अक़िल्लीयतों के लिए आला मियारी तकनीकी तालीम के मराकिज़ का एलान किया जाता तो ज़रूर उसका ख़ैरमक़दम करते लेकिन टी आरएस ने जो हज़ार आटोज़ की फ़राहमी का ऐलान किया है इस से पार्टी की ज़हनियत का अंदाज़ा होता है।

मुहम्मद अली शब्बीर ने कहा कि अवाम को गुमराह करते हुए झूटे तरक़्क़ीयाती वादों के ज़रिये वोट हासिल करने की कोशिश को शहर हैदराबाद के अवाम यक़ीनन नाकाम बनाएंगे। इन्होंने बताया कि रियासत की तरक़्क़ी के जो वादे किए गए थे वो पूरे नहीं किए गए और अब टीआरएस नए वादों के ज़रिये अवाम को गुमराह कर रही है।

उन्होंने बताया कि कांग्रेस पार्टी ने काबुल अमल वादों पर मुश्तमिल इंतेख़ाबी मंशूर तैयार किया है और बलदिया में इक़्तेदार हासिल होने की सूरत में ज़रूर इन वादों को पूरा किया जाएगा। क़ाइद अपोज़िशन तेलंगाना क़ानूनसाज़ काउंसिल ने कहा कि टीआरएस के रियासती वज़ीर के टी रामा राव‌ ने100 नशिस्तें हासिल ना होने पर सियासत से किनारा-कशी इख़तियार कर लेने का चैलेंज किया था और एक से ज़ाइद मर्तबा ये चैलेंज उन्होंने दुहराया।

जब कांग्रेस की तरफ‌ से चैलेंज क़बूल किया गया तो राह-ए-फ़रार इख़तियार कर रहे हैं। और ये कहा जा रहा है कि100 नशिस्तों की बात नहीं की गई थी बल्कि जी एच एमसी पर मेयर बनाए जाने का चैलेंज किया गया था। केटीआर के फ़रार इख़तियार करने से ये बात वाज़िह हो चुकी है कि टीआरएस बलदी इंतेख़ाबात में कांग्रेस का मुक़ाबला करने की मुतहम्मिल नहीं रही ईसी लिए ख़ुद की तरफ से किए गए चैलेंज से बिलवासता तौर पर दसतबरदारी इख़तियार कर रही है।

मुहम्मद अली शब्बीर ने बताया कि कांग्रेस को पुराने शहर के अलावा नए शहर के मुख़्तलिफ़ मुक़ामात पर भी ज़बरदस्त अवामी ताईद हासिल हो रही है और उन्हें उमीद है कि शहर हैदराबाद के राय दहनदे कांग्रेस की कारकर्दगी को देखते हुए उम्मीदवारों को कामयाब बनाएंगे|

TOPPOPULARRECENT