Wednesday , October 18 2017
Home / India / तेलंगाना की तशकील पर अव्वाम की तशवीश फ़ित्री अमर: डी राजा

तेलंगाना की तशकील पर अव्वाम की तशवीश फ़ित्री अमर: डी राजा

रियासत आंध्रा प्रदेश में नई रियासत की तशकील केलिए मर्कज़ी हुकूमत के फैसले के बाद जारी ज़बर्दस्त एहतिजाज पर तशवीश ज़ाहिर करते हुए सी पी आई लीडर डी राजा ने कहा कि मर्कज़ को अव्वाम को ये बावर करवाने में ज़र्रा बराबर भी ताख़ीर नहीं करनी चाह

रियासत आंध्रा प्रदेश में नई रियासत की तशकील केलिए मर्कज़ी हुकूमत के फैसले के बाद जारी ज़बर्दस्त एहतिजाज पर तशवीश ज़ाहिर करते हुए सी पी आई लीडर डी राजा ने कहा कि मर्कज़ को अव्वाम को ये बावर करवाने में ज़र्रा बराबर भी ताख़ीर नहीं करनी चाहिए कि उनके (अव्वाम) मुफ़ाद का हर हाल में तहफ़्फ़ुज़ किया जाएगा।

मर्कज़ी हुकूमत को ये यकीन‌ देना ज़रूरी है। राजा ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा कि मुआमला इंतिहाई संगीन है और इसी लिए अव्वाम एहतिजाज के ज़रिया अपने ख़ौफ़ का इज़हार कर रहे हैं कि उन्हें अब तक ये यकीन‌ नहीं दिया गया है कि अव्वामी मुफ़ाद को नुक़्सान नहीं पहुंचाया जाएगा और वो अब तक इसी मुग़ालता में हैं कि नई रियासत की तशकील के बाद इनका अर्सा-ए-हयात तंग करदिया जाएगा।

अख़बारी नुमाइंदों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि रियासत की तक़सीम से अव्वाम मुतास्सिर ज़रूर होंगे की उनका सब से पहली बात तो ये होगी कि आंध्रा प्रदेश के मुख़्तलिफ़ दरयाओं से उन्हें जो पानी मिला करता था, नई रियासत की तशकील के बाद नहीं मिलेगा। यही बात मुलाज़मतों, बिजली की तक़सीम और सरमाया कारी से मुताल्लिक़ भी कही जा सकती है।

जब किसी को किसी चीज़ के बारे में वज़ाहत से कुछ मालूमात ही नहीं है तो वो अंधेरे में कब तक हाथ पाव‌ मारेगा ? लिहाज़ा हुकूमत का फ़र्ज़ है कि वो ख़ौफ़ज़दा और तशवीश में मुबतला अव्वाम को ये बावर करवाए कि उनका मुफ़ाद किसी भी तरह मुतास्सिर नहीं होगा। अव्वाम की ये तशवीश मामूली नहीं है इससे कई लाख ज़िंदगियां वाबस्ता हैं।

मर्कज़ी हुकूमत ने वज़रा का एक ग्रुप भी तशकील दिया है लेकिन उनके (राजा) ख़्याल में इसे कोई ग्रुप एहतिजाज करने वालों के लीडरों से मुलाक़ात करने नहीं आएगा। टी डी पी सरबराह चंद्रा बाबू नायडू मर्कज़ के आंध्रा प्रदेश को तक़सीम करने के फैसले के ख़िलाफ़ भूक हड़ताल का आज से शुरु कर रहे हैं। याद रहे कि हैदराबाद में भी दो रोज़ क़बल वाई एस आर कांग्रेस सरबराह जगन मोहन रेड्डी ने भी अपनी भूख‌ हड़ताल शुरु किया है।

TOPPOPULARRECENT