Tuesday , October 24 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना के पहले बजट को मुनफ़रद बनाने की कोशिश

तेलंगाना के पहले बजट को मुनफ़रद बनाने की कोशिश

नौ क़ायम शूदा रियासत तेलंगाना का बजट बराए मालीयाती साल 2014-15 तक़रीबन 80 हज़ार करोड़ पर मुश्तमिल होगा।

नौ क़ायम शूदा रियासत तेलंगाना का बजट बराए मालीयाती साल 2014-15 तक़रीबन 80 हज़ार करोड़ पर मुश्तमिल होगा।

सरकारी ज़राए के मुताबिक़ चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ ने महिकमा फाइनैंस के आला ओहदेदारों के साथ मीटिंग में बजट को तक़रीबन क़तईयत दे दी है।

चीफ़ मिनिस्टर ने रियासत तेलंगाना के पहले बजट को मुनफ़रद और अवामी बजट के तौर पर पेश करने की हिदायत दी और कहा कि वो रिवायती अंदाज़ के बजट के ख़िलाफ़ हैं।

उन्होंने ओहदेदारों से कहा कि हुकूमत की इस्कीमात और पालिसीयों को बजट में तर्जीह दी जाये और ग़ैर ज़रूरी अख़राजात से मुताल्लिक़ इस्कीमात को सिर्फ़ नज़र किया जाये जिन से सरकारी ख़ज़ाने पर भारी बोझ पड़ रहा है।

5 नवंबर को बजट मीटिंग का आग़ाज़ होगा और उसी दिन वज़ीर फाइनैंस ई राजिंदर असेंबली में और डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर डॉ राजिया कौंसिल में बजट पेश करेंगे। तवक़्क़ो है के बजट सेशन एक माह तक जारी रहेगा। हुकूमत ने मुबाहिस और सरकारी उमूर् की तकमील को यक़ीनी बनाने के लिए शाम के औक़ात में भी मीटिंग मुनाक़िद करने का फ़ैसला किया है।

इस के अलावा हफ़्ते के दिन भी असेंबली और कौंसिल की मीटिंग होगी। ज़राए के मुताबिक़ बजट में बहबूदी से मुताल्लिक़ इस्कीमात के लिए ज़ाइद रक़म मुख़तस की जाएगी और तेलंगाना का पहला बजट सिफ़र पर मबनी होगा जिस में मुत्तहदा रियासत के अख़राजात और ख़र्च को शामिल नहीं किया जाएगा-

TOPPOPULARRECENT