Saturday , October 21 2017
Home / AP/Telangana / तेलंगाना के 328 और एपी के 1859 आज़मीने हज्ज का इंतेख़ाब

तेलंगाना के 328 और एपी के 1859 आज़मीने हज्ज का इंतेख़ाब

हैदराबाद 23 मार्च: हज 2016 के लिए तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के आज़मीने हज्ज के इंतेख़ाब के लिए हज हाउस नामपली में क़ुरआ अंदाज़ी अंजाम दी गई। तेलंगाना के लिए 328 आज़मीने हज्ज का क़ुरआ अंदाज़ी के ज़रीये इंतेख़ाब अमल में आया जबकि आंध्र प्रदेश में 1859 आज़मीन के इंतेख़ाब के लिए क़ुरआ अंदाज़ी की गई।

तेलंगाना में महफ़ूज़ ज़मुरा के तहत 2204 उम्मीदवारों के क़ुरआ अंदाज़ी के बग़ैर इंतेख़ाब के ज़रीये आम ज़मुरा की नशिस्तें सिर्फ 328 रह गई थीं जिसके लिए आज सेंट्रल हज कमेटी के इश्तिराक से ऑनलाइन क़ुरआ अंदाज़ी की गई। महफ़ूज़ ज़मुरा में 70साल से ज़ाइद उम्र के लोग और मुसलसिल चौथी मर्तबा दरख़ास्त देने वाले उम्मीदवार शामिल हैं जिनका क़ुरआ अंदाज़ी के बग़ैर इंतेख़ाब किया जाता है। सेंट्रल हज कमेटी ने तेलंगाना के लिए 2532 आज़मीन का कोटा अलाट किया है जबकि पिछ्ले साल 2760 कोटा अलाट किया गया था और वेटिंग लिस्ट के ज़रीये 2969 आज़मीने हज्ज रवाना हुए थे।

तेलंगाना में जुमला 15186 दरख़ास्तें दाख़िल की गईं और हर ज़िला में मुस्लिम आबादी के लिहाज़ से हज कोटा अलाट किया गया। इस तरह आम ज़मुरा के तहत बाक़ी रहने वाली 328 नशिस्तों में हैदराबाद को सिर्फ 126 नशिस्तें हिस्से में आई हैं जबकि हैदराबाद से आम ज़मुरा के तहत दाख़िल की गई दरख़ास्तों की तादाद 9925 है।

इस तरह कई हज़ार उम्मीदवारों को मायूसी का सामना करना पड़ा। रंगारेड्डी के लिए सिर्फ 45 कोटा अलाट हुआ जबकि आम ज़मुरा के तहत दाख़िल की गई दरख़ास्तों की तादाद 965थी। क़ुरआ अंदाज़ी के ज़रीये आदिलाबाद में 20, करिमनगर 18, खम्मम 12, महबूबनगर 25, मेदक 25, नलगेंडा 14, निज़ामबाद 29 और वर्ंगल से 14 आज़मीने हज्ज का इंतेख़ाब अमल में आया है। क़ुरआ अंदाज़ी के मौके पर बड़ी तादाद में मर्द-ओ-ख़वातीन मौजूद थे और उन्हें इंतेख़ाब ना होने पर मायूसी का सामना करना पड़ा।

हैदराबाद से मुंतख़ब किए गए 126 आज़मीन सिर्फ़ 53 कोर्स के तहत हैं। तेलंगाना की क़ुरआ अंदाज़ी के मौके पर डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर मुहम्मद महमूद अली, क़ाइद अप्पोज़ीशन मुहम्मद अली शब्बीर, अरकान क़ानूनसाज़ कौंसिल मुहम्मद फ़ारूक़ हुसैन, मुहम्मद सलीम, सेक्रेटरी अक़लियती बहबूद सय्यद उम्र जलील मौजूद थे।

इसी दौरान सहि पहर 3 बजे आंध्र प्रदेश के आज़मीने हज्ज के लिए क़ुरआ अंदाज़ी की गई। वज़ीर-ए-क़लीयाती बहबूद आंध्र प्रदेश पी रघूनाथ रेड्डी, रुकन क़ानूनसाज़ कौंसिल अहमद शरीफ़, कमिशनर अक़लियती बहबूद शेख़ मुहम्मद इक़बाल और आंध्र प्रदेश के दुसरे ओहदेदार मौजूद थे।

आंध्र प्रदेश के लिए सेंट्रल हज कमेटी ने 2052 आज़मीन का कोटा अलाट किया है और दो महफ़ूज़ ज़मुराजात के तहत 193 आज़मीन का क़ुरआ अंदाज़ी के बग़ैर इंतेख़ाब अमल में आया। 1859 आज़मीन के इंतेख़ाब के लिए क़ुरआ अंदाज़ी की गई

TOPPOPULARRECENT