Monday , October 23 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना जैसे हस्सास मौज़ू पर तबसरा से गुरेज़ किया जाए

तेलंगाना जैसे हस्सास मौज़ू पर तबसरा से गुरेज़ किया जाए

तेलुगू देशम पार्टी क़ाइदीन 28 दिसंबर के इजलास के मुताल्लिक़ पार्टी की हिक्मत-ए-अमली तैयार होने तक अलहिदा रियासत की ताईद या मुख़ालिफ़त में ब्यान-बाज़ीयों का हिस्सा ना बनें । सदर तेलुगू देशम पार्टी एन चंद्रा बाबू नायडू ने आज बज़री

तेलुगू देशम पार्टी क़ाइदीन 28 दिसंबर के इजलास के मुताल्लिक़ पार्टी की हिक्मत-ए-अमली तैयार होने तक अलहिदा रियासत की ताईद या मुख़ालिफ़त में ब्यान-बाज़ीयों का हिस्सा ना बनें । सदर तेलुगू देशम पार्टी एन चंद्रा बाबू नायडू ने आज बज़रीए टेली कान्फ़्रेंस रियासत के तमाम सीनियर क़ाइदीन को मश्वरा दिया कि वो इस हस्सास मसला पर किसी भी तरह के रिमार्क्स से गुरेज़ करें और सयासी मुफ़ादात के लिए उकसाए जाने की कोशिशों का शिकार ना हों ।

मिस्टर नायडू ने बताया कि रियासत और तेलुगू देशम पार्टी दोनों के दुश्मन में कोई फ़र्क़ नहीं है । इसी लिए हमें रियासत की तरक़्क़ी और मसाइल के हल के लिए मुत्तहिद रहने की ज़रूरत है । रियासत की तक़सीम के मसला पर 28 दिसंबर को तलब कर्दा मर्कज़ी हुकूमत के इजलास पर ग़ौर-ओ-ख़ौस के बाद फैसला किया जाएगा कि आया इस इजलास में पार्टी क्या मौक़िफ़ इख़तियार करेगी ।

सदर तेलुगू देशम पार्टी ने टेली कान्फ़्रेंस के दौरान बताया कि रियासत की तक़सीम के मसला पर तेलुगू देशम पार्टी का अपना मौक़िफ़ है । उन्हों ने वाज़िह किया कि ये बात वाज़िह है कि तेलुगू देशम पार्टी अलहिदा रियासत तेलंगाना की तशकील की मुख़ालिफ़ नहीं है लेकिन क़ाइदीन इस बात को भी पेश नज़र रखें कि मर्कज़ी हुकूमत की जानिब से अब तक कोई बात वाज़िह नहीं की गई है और ना ही कांग्रेस की जानिब से अलहिदा रियासत तेलंगाना मसला पर मौक़िफ़ ज़ाहिर किया गया है जब कि तेलुगू देशम पार्टी की जानिब से परनब कमेटी को रवाना कर्दा मकतूब से अब तक भी दस्तबरदारी इख़तियार नहीं की गई है ।

इलावा अज़ीं परनब कमेटी को भी कांग्रेस ने अपनी राय पेश नहीं की थी और आज तक भी कांग्रेस का मसला पर कोई वाज़िह मौक़िफ़ नहीं है।

TOPPOPULARRECENT