Tuesday , October 17 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना तहरीक को पोलावरम पराजकट टनडर मुआमला से जोड़ना अफ़सोसनाक- पूनम प्रभाकर

तेलंगाना तहरीक को पोलावरम पराजकट टनडर मुआमला से जोड़ना अफ़सोसनाक- पूनम प्रभाकर

हैदराबाद 31 अक्तूबर (सियासत न्यूज़) कांग्रेस के रुकन पार्लीमैंट मिस्टर पूनम प्रभाकर ने पोलावरम पराजकट टनडर की आड़ में तेलंगाना तहरीक को नुक़्सान पहुंचाने की कोशिश का सदर तलगो देशम पार्टी मिस्टर एन चंद्रा बाबू नायडू पर इल्ज़ाम आइद

हैदराबाद 31 अक्तूबर (सियासत न्यूज़) कांग्रेस के रुकन पार्लीमैंट मिस्टर पूनम प्रभाकर ने पोलावरम पराजकट टनडर की आड़ में तेलंगाना तहरीक को नुक़्सान पहुंचाने की कोशिश का सदर तलगो देशम पार्टी मिस्टर एन चंद्रा बाबू नायडू पर इल्ज़ाम आइद किया और तेलंगाना के तलगो देशम अरकान असमबली को मिस्टर नायडू के बिछाए हुए जाल में ना फंसने का मश्वरा दिया।

मीडीया से बातचीत करते हुए मिस्टर पूनम प्रभाकर ने कहा कि सदर तलगो देशम मिस्टर एन चंद्रा बाबू नायडू एक मुनज़्ज़म साज़िश के तहत तेलंगाना तहरीक को नुक़्सान पहुंचा रहे हैं। सदर टी आर ऐस मिस्टर के चन्द्र शेखर राव से इंतिक़ाम लेने के लिए आम हड़ताल की सौदेबाज़ी का इल्ज़ाम आइद करते हुए तेलंगाना तहरीक में शामिल मुलाज़मीन, वुकला और डॉक्टर्स के इलावा समाज के तमाम तबक़ात की तौहीन कर रहे हैं।

अगर उन्हें चन्द्र शेखर राव से कोई दुश्मनी है तो वो उन से शख़्सी तौर पर निमट लें, ताहम तेलंगाना तहरीक से पोलावरम पराजकट के टनडर को जोड़ने की कोशिश ना करें। तेलंगाना तहरीक किसी सयासी पार्टी या क़ाइद के हाथ में नहीं है, बल्कि अवाम के हाथ में पहुंच चुकी है, जिस में सब शामिल हैं। तेलंगाना तलगो देशम के अरकान असमबली से भी अपील है कि वो जोश की बजाय होश से काम लें, चंद्रा बाबू नायडू के बिछाए हुए जाल में हरगिज़ ना फंसीं और ना ही टी आर उसको निशाना बनाने के चक्क्र में तेलंगाना तहरीक को नुक़्सान पहुंचाएं।

उन्हों ने तेलंगाना के अवाम, रियास्ती वुज़रा और मुंतख़ब अवामी नुमाइंदों से यौम तासीस के बाईकॉट की अपील की। उन्हों ने कहा कि तेलंगाना कांग्रेस क़ाइदीन के इत्तिहाद में फूट डालने की कोशिश की जा रही है, मगर मुख़ालिफ़ीन अपने मक़सद में कभी कामयाब नहीं होंगी। रचा बंडा प्रोग्राम में शिरकत के ताल्लुक़ से पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए मिस्टर पूनम प्रभाकर ने कहा कि ये तरक़्क़ीयाती-ओ-फ़लाही प्रोग्राम है, जिस में हम रुकावट पैदा करने का कोई इरादा नहीं रखती, साथ ही प्रोग्राम में शिरकत भी नहीं करेंगे।

TOPPOPULARRECENT