Tuesday , August 22 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना पब्लिक सर्विस कमीशन, उर्दू मीडियम उम्मीदवारों के साथ ना इंसाफ़ी

तेलंगाना पब्लिक सर्विस कमीशन, उर्दू मीडियम उम्मीदवारों के साथ ना इंसाफ़ी

तेलंगाना पब्लिक सर्विस कमीशन ने मुख़्तलिफ़ मह्कमाजात में असिसटेंट एग्जीक्यूटिव इंजीनियर्स की जायदादों पर तक़र्रुरात के सिलसिले में उर्दू मीडियम उम्मीदवारों के साथ नाइंसाफ़ी की है जबकि तेलुगु मीडियम उम्मीदवारों के लिए तेलुगु ज़बान में पर्चा फ़राहम करने का फ़ैसला किया गया।

तेलंगाना हुकूमत की जानिब से बड़े पैमाने पर तक़र्रुरात के आग़ाज़ के बाद अक़लीयतों में उम्मीद पैदा हुई थी कि सरकारी मुलाज़मतों में उनकी नुमाइंदगी में इज़ाफ़ा होगा लेकिन पब्लिक सर्विस कमीशन ने उर्दू मीडियम तलबा को मायूस किया है।

तेलुगु मीडियम उम्मीदवारों के लिए जब जेनरल स्टडीज का पर्चा उनकी मादरी ज़बान में फ़राहम करने का फ़ैसला किया गया तो फिर उर्दू मीडियम तलबा इस सहूलत से महरूम क्यों।

दिलचस्प बात ये है कि कमीशन में मौजूद वाहिद अक़लीयती रुक्न डॉक्टर मतीन उद्दीन कादरी ने कमीशन के इजलास में बारहा तजवीज़ पेश की थी कि उर्दू मीडियम तलबा के लिए भी जेनरल स्टडीज के पर्चा को उर्दू ज़बान में फ़राहम किया जाए लेकिन कमीशन के सदर नशीन ने सिर्फ तेलुगु मीडियम तलबा के हक़ में फ़ैसला किया।

इस से अंदाज़ा होता है कि हुकूमत की जानिब से तक़र्रुरात के आग़ाज़ के बावजूद कमीशन में मौजूद अफ़राद अक़लीयतों को मुनासिब नुमाइंदगी देने तैयार नहीं हैं। तेलंगाना हुकूमत को चाहीए कि वो फ़ौरी इस सिलसिले में मुदाख़िलत करे और कमीशन की जानिब से किए जा रहे तक़र्रुरात में अक़लीयतों और उर्दू मीडियम उम्मीदवारों से इन्साफ़ को यक़ीनी बनाएँ।

TOPPOPULARRECENT