Monday , October 23 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना बिल के ख़िलाफ़ वाई एस आर कांग्रेस का आज आंध्र प्रदेश बंद

तेलंगाना बिल के ख़िलाफ़ वाई एस आर कांग्रेस का आज आंध्र प्रदेश बंद

मर्कज़ के तेलंगाना बिल पार्लियामेंट में पेश करने के ख़िलाफ़ वाई एस आर कांग्रेस पार्टी ने बतौरे एहतेजाज आंध्र प्रदेश में आम हड़ताल का एलान किया है और लोक सभा में उस बिल की पीशकशी को जमहूरीयत का मज़ाक़ क़रार दिया।

मर्कज़ के तेलंगाना बिल पार्लियामेंट में पेश करने के ख़िलाफ़ वाई एस आर कांग्रेस पार्टी ने बतौरे एहतेजाज आंध्र प्रदेश में आम हड़ताल का एलान किया है और लोक सभा में उस बिल की पीशकशी को जमहूरीयत का मज़ाक़ क़रार दिया।

सदर वाई एस आर कांग्रेस जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि उनकी पार्टी इस बिल की शिद्दत से मुख़ालिफ़त करेगी और मुत्तहदा आंध्र प्रदेश के लिए तमाम अप्पोज़ीशन जमातों की ताईद हासिल की जाएगी।

उन्होंने कहा कि स्पीकर का ये एलान कि एवान की राय हासिल किए बगै़र ये बिल पेश किया गया है , जमहूरीयत का मज़ाक़ है और एसा पार्लियामेंट में होरहा है जो जमहूरीयत की निगहबान है।

उन्होंने कहा कि आज पारलीमानी जम्हूरियत का योमे सियाह था। मर्कज़ के इस फ़ैसले पर नाराज़ तीन अरकाने असेंबली ने आज बतौरे एहतेजाज स्तीफ़ा दे दिया। दूसरी तरफ़ चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी ने तेलुगु इज़्ज़त-ए-नफ़स का मौज़ू फिर से उठाते हुए वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह को तन्क़ीदों का निशाना बनाया।

असेंबली में अली अलहसाब बजट सेशन का आख़िरी दिन भी था और अगर अलाहिदा रियासत तेलंगाना एक हक़ीक़त बन जाये तो फिर मुत्तहदा आंध्र प्रदेश का ये आख़िरी असेंबली सेशन होगा।

कांग्रेस को आज उस वक़्त धक्का पहूँचा जब साहिली इलाके के तीन अरकाने असेंबली ए प्रभाकर रेड्डी, श्रीधर कृष्णा रेड्डी (दोनों ज़िला नेल्लोर) और डी सत्यानंदा राव‌ (मशरिक़ी गोदावरी) ने बतौरे एहतेजाज स्तीफ़ा दे दिया।

एक और कांग्रेस रुक्ने असेंबली आर सूर्य प्रकाश राव‌ ने कांग्रेस अरकाने पार्लियामेंट के ख़िलाफ़ तादीबी कार्रवाई पर बतौरे एहतेजाज 11 फ़बरोरी को स्तीफ़ा दे दिया था। चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी ने तेलंगाना बिल पर लोक सभा में पेश आए नाख़ुशगवार वाक़ियात को इंतिहाई अफ़सोसनाक क़रार दिया और कहा कि मर्कज़ को ये सूचना चाहीए कि एसी सूरते हाल के हक़ीक़ी अस्बाब क्या हैं।

उन्होंने असेंबली को ग़ैर मुअय्यना मुद्दत के लिए मुल्तवी किए जाने के बाद ज़राए इबलाग़ के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि वज़ीर-ए-आज़म ये कहते हैं कि इन वाक़ियात पर इन का दिल ख़ून के आँसू रो रहा है, लेकिन उन्हें ये भी समझना चाहीए कि मर्कज़ की ग़ैर जमहूरी हरकतों की वजह से करोड़ों तेलुगु अवाम के दिल ख़ून के आँसू रो रहे हैं।

उन्होंने आंध्र प्रदेश तंज़ीम जदीद बिल की लोक सभा में पीशकशी को इंतिहाई ग़ैर जमहूरी और आंध्र प्रदेश से ताल्लुक़ रखने वाले 18 अरकान-ए-पार्लियामेंट की मुअत्तली को भी ग़ैर दरुस्त क़रार दिया।

चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि सिर्फ़ पार्लियामेंटमें बिल पेश करने से रियासत तक़सीम नहीं होजाती। उन्होंने कहा कि खेल अभी ख़त्म नहीं हुआ और चंद गेंदें बाक़ी हैं। आइन्दा के लायेहा-ए-अमल के बारे में किरण कुमार रेड्डी ने बताया कि सीमांध्र कांग्रेस क़ाइदीन से मुज़ाकरात के बाद ही इजतिमाई फ़ैसला किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT