Tuesday , October 17 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना में दो माह के अंदर 100 किसानों ने की ख़ुदकुशी

तेलंगाना में दो माह के अंदर 100 किसानों ने की ख़ुदकुशी

नई रियासत तेलंगाना के क़ियाम के दो माह में ज़ाइद अज़ 100 किसानों ने ख़ुदकुशी करली है। ख़ुदकुशी करने वाले किसानों के ख़ानदानों को अब तक नई हुकूमत की तरफ से कोई माली इमदाद हनूज़ वसूल नहीं हुई और ना ही किसी ओहदेदार ने ग़मज़दा ख़ानदानों से मुलाक़

नई रियासत तेलंगाना के क़ियाम के दो माह में ज़ाइद अज़ 100 किसानों ने ख़ुदकुशी करली है। ख़ुदकुशी करने वाले किसानों के ख़ानदानों को अब तक नई हुकूमत की तरफ से कोई माली इमदाद हनूज़ वसूल नहीं हुई और ना ही किसी ओहदेदार ने ग़मज़दा ख़ानदानों से मुलाक़ात करके पुर्सा देने की ज़हमत की है।

हुकूमत के मक़बूल एम जी ओ 421 के बावजूद नई रियासत तेलंगाना में किसानों को कर्ज़ों और नाकाफ़ी बारिश से फसलों की तबाही का शदीद-ओ-संगीन सा। इंतिख़ाबात से क़बल हुक्मराँ पार्टी तलंगाना राष़्ट्रा समीती ने इस जी ओ की पर ज़ोर वकालत की थी । ये जी ओ 2004 में जारी किया गया था जिस में ये लाज़िमी क़रार दिया गया था कि मुतवफ़्फ़ी किसान के ख़ानदान के ग़मज़दा अफ़रद से मुलाक़ात के लिए ओहदेदारों की 3 रुकनी कमेटी तशकील दी जाये और ये यक़ीनी बनाया जाये कि ख़ुदकुशी कर लेने वाले किसान के ख़ानदानों को फी कस 1.5 लाख रुपये मुआवज़ा और बच्चों की तालीम के लिए अलाउंस भी दिया जाये लेकिन पिछ्ले 2 माह के दौरान 100 से ज़ाइद किसानों की ख़ुदकुशी के बाद भी हुकूमत ने इस संगीन मसले की तरफ तवज्जा नहीं दी है।

तेलंगाना में पिछ्ले 3 साल से मुसलसिल कपास की फ़सल को नुक़्सान होरहा है जबकि किसानों के कर्ज़ों को माफ़ करने का दावे करते हुए टी आर एसने इक़तिदार हासिल किया था।

बारिश की कमी की वजह से सूरते हाल नाज़ुक होरही है। हालिया दिनों में हुई बारिश 5 अगस्त तक 48 फ़ीसद बताई गई है जबकि पिछ्ले के मुक़ाबिल 19 फ़ीसद बारिश की कमी है।

TOPPOPULARRECENT