Saturday , October 21 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना में सड़कों की तामीर के लिए 10,000 करोड़ रुपये मुख़तस

तेलंगाना में सड़कों की तामीर के लिए 10,000 करोड़ रुपये मुख़तस

सड़कों की ख़सताहाली पर ब्रहम अवाम बहुत जल्द उन की ख़ाहिश के मुताबिक़ साफ़ सुथरी कुशादा और पुख़्ता सड़कों को इस्तेमाल करसकेंगे क्युंकि तेलंगाना की तमाम बड़ी सड़कें और शाहराहें अंदरून एक साल आईने की तरह चमकेंगी।

सड़कों की ख़सताहाली पर ब्रहम अवाम बहुत जल्द उन की ख़ाहिश के मुताबिक़ साफ़ सुथरी कुशादा और पुख़्ता सड़कों को इस्तेमाल करसकेंगे क्युंकि तेलंगाना की तमाम बड़ी सड़कें और शाहराहें अंदरून एक साल आईने की तरह चमकेंगी।

बशर्तिके तेलंगाना के चीफ़ मिनिस्टर के चंद्रशेखर राव‌ अपने अह्द पर क़ायम रहते हुए अपने तरीका-ए-कार के मुताबिक़ इस प्रोजेक्ट को रोबाअमल लाएंगे। चीफ़ मिनिस्टर के सी आर ने अपनी रियासत तेलंगाना में सड़कों की मौजूदा हालत का जायज़ा लेने के लिए एक आला सतही जायज़ा मीटिंग तलब किया।

जिस में उन्होंने एलान किया कि रियासत के तमाम 10 अज़ला को फी कस 1000 करोड़ रुपये के हिसाब से 10,000 हज़ार करोड़ रुपये मुख़तस करने का एलान किया और कहा कि इस रक़म से सड़कों की कुशादगी , पुख़्ता कारी , तामीर-ओ-मरम्मत की जाएगी।

के सी आर ने ये एलान भी किया कि पी वि नरसिम्हा राव‌ एक्सप्रेस के ख़ुतूत पर हैदराबाद में बैन-उल-अक़वामी मयारात के मुताबिक़ चार एक्सप्रेस वे तामीर किए जाऐंगे। चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना ने इन प्रोजेक्टों के कारगर और काबिले अमल होने के बारे में रिपोर्ट की पीशकशी के लिए एक कमेटी तशकील दी और जल्द टनडरों की तलब के लिए फ़िलफ़ौर रिपोर्ट तलब की।

डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर टी राजिया इस कमेटी के चैरमैन मुक़र्रर किए गए हैं। रियासती वुज़रा नावनी नरसिम्हा रेड्डी , एटला राजिंदर , गंटा कंडला जगदीश रेड्डी , पोचारम श्रीनिवास, टी हरीश राव‌ ,तारिक़ रामा राव‌ और जोगू रामना कमेटी के अरकान होंगे।

तवक़्क़ो है के ये कमेटी बाजलत मुम्किना चीफ़ मिनिस्टर के सी आर को अपनी रिपोर्ट पेश करेगी। शहर हैदराबाद के अतराफ़ चार एक्सप्रेस वे की तामीर के अस्बाब वजूहात बयान करते हुए चन्द्रशेखर राव‌ ने कहा कि वर्ंगल , खम्मम , नलगेंडा , करीमनगर ओ जैसे अज़ला से लोग बमुश्किल देढ़ दो घंटे में हैदराबाद पहूंच जाते हैं लेकिन शहर में वाक़्ये अपने मतलूबा मुक़ाम तक पहूंचने के लिए इनहीं दो ता ढाई घंटे ज़ाए करना पड़ता है।

TOPPOPULARRECENT