Thursday , October 19 2017
Home / Hyderabad News / तेलंगाना से मुताल्लिक़ वज़ीर-ए-आज़म के ब्यान से कांग्रेस पार्टी का नज़रिया आशकार

तेलंगाना से मुताल्लिक़ वज़ीर-ए-आज़म के ब्यान से कांग्रेस पार्टी का नज़रिया आशकार

हैदराबाद। 14 नवंबर, ( सियासत न्यूज़) वज़ीर-ए-आज़म डाक्टर मनमोहन सिंह के तेलंगाना के मुताल्लिक़ ब्यान से ये बात आशकार होगई है कि मर्कज़ी यू पी ए हुकूमत तेलंगाना मसला पर क़दम पीछे हटा चुकी है। कन्वीनर तेलंगाना तेलगुदेशम फ़ोर्म मिस्टर ई

हैदराबाद। 14 नवंबर, ( सियासत न्यूज़) वज़ीर-ए-आज़म डाक्टर मनमोहन सिंह के तेलंगाना के मुताल्लिक़ ब्यान से ये बात आशकार होगई है कि मर्कज़ी यू पी ए हुकूमत तेलंगाना मसला पर क़दम पीछे हटा चुकी है। कन्वीनर तेलंगाना तेलगुदेशम फ़ोर्म मिस्टर ई दिया कर राव ने आज तेलंगाना तेलगुदेशम फ़ोर्म के हंगामी इजलास के बाद ज़राए इबलाग़ के नुमाइंदों से बातचीत के दौरान ये बात कही।

उन्हों ने बताया कि वज़ीर-ए-आज़म के मुतनाज़ा ब्यान पर तेलंगाना तेलगुदेशम फ़ोर्म ने हंगामी इजलास मुनाक़िद करते हुए हुसूल तेलंगाना केलिए तहरीक में शिद्दत पैदा करने का फ़ैसला किया है। उन्हों ने बताया कि तेलंगाना तेलगुदेशम फ़ोर्म इलाक़ा के तमाम 10अज़ला में सोनीया गांधी और वज़ीर-ए-आज़म आग के पुतले नज़र-ए-आतिश करते हुए एहतिजाज में शिद्दत पैदा करेगी।

मिस्टर ई दिया कर राव ने तमाम तेलंगाना हामी तंज़ीमों बिलख़सूस तेलंगाना राष़्ट्रा समीती से अपील की कि वो तेलंगाना तेलगुदेशम फ़ोर्म के एहितजाजी प्रोग्राम में तआवुन करते हुए तहरीक में शिद्दत पैदा करें।उन्हों ने वज़ीर-ए-आज़म डाक्टर मनमोहन सिंह को मिसिज़ गांधी के इशारों पर काम करनेवाली शख़्सियत क़रार देते हुए कहा कि डाक्टर मनमोहन सिंह के ब्यान से कांग्रेस का नज़रिया 14 नवंबर होचुका है। उन्हों ने बताया कि इत्तिफ़ाक़ राय के नाम पर तेलंगाना की तशकील में ताख़ीर केलिए मर्कज़ी हुकूमत जो साज़िश तैय्यार कररही है इस के ख़िलाफ़ तमाम तेलंगाना हामी तंज़ीमों और जमातों बिलख़सूस अवामी नुमाइंदों को मुतहर्रिक होते हुए अलहदा रियासत तेलंगाना केलिए जद्द-ओ-जहद करनी चाहिये।

मिस्टर ई दिया कर राव ने टी आर उसको तेलंगाना केलिए ग़ैर संजीदा क़रार देते हुए कहा कि सरबराह टी आर उसको चाहीए कि वो अब अपनी ख़ामोशी तोड़ते हुए तहरीक तेलंगाना में शिद्दत पैदा करें। उन्हों ने बताया कि के सी आर की जानिब से वज़ीर-ए-आज़म, ग़ुलाम नबी आज़ाद और दीगर क़ाइदीन को निशाना बनाया जा रहा है लेकिन सोनीया गांधी के मुताल्लिक़ के सी आर की ख़ामोशी माना ख़ेज़ है। मिस्टर ई दिया कर राव ने मुतालिबा किया कि टी आर ऐस सोनीया गांधी की ख़ामोशी तोड़ने केलिए आगे आई। कन्वीनर तेलंगाना तेलगुदेशम फ़ोर्म ने मुंख़बा अवामी नुमाइंदों से अपील की कि वो अपने ओहदों से मुस्ताफ़ी होते हुए तहरीक तेलंगाना में शिद्दत पैदा करें चूँकि मर्कज़ी हुकूमत को ये एहसास हो चला है कि इलाक़ा तेलंगाना केलिए कोई अवामी तहरीक नहीं है बल्कि सयासी मक़ासिद के हुसूल केलिए चलाई जाने वाली तहरीक है।

उन्हों ने प्रोफ़ैसर कूद नड्डा राम सदर नशीन तेलंगाना पोलटीकल जवाइंट ऐक्शण कमेटी को मश्वरा दिया कि वो तेलगुदेशम पार्टी क़ाइदीन को निशाना बनाना बंद करे और तहरीक में हिस्सा लेने वाले तेलंगाना तेलगुदेशम क़ाइदीन की हौसलाअफ़्ज़ाई करते हुए उन से इज़हार यगानगत करे ताकि हुसूल तेलंगाना केलिए तेलंगाना हामीयों के इत्तिहाद को साबित किया जा सके। मिस्टर ई दिया कर राव ने तेलंगाना से ताल्लुक़ रखने वाले कांग्रेस क़ाइदीन से मुतालिबा किया कि वो वज़ीर-ए-आज़म के ब्यान पर अपना नज़रिया 14 नवंबर करें ताकि तेलंगाना अवाम को इस बात से वक़फ़ीत हासिल हो कि कांग्रेस को तेलंगाना क़ाइदीन डाक्टर मनमोहन सिंह के ब्यान को किस तनाज़ुर में ले रहे हैं।

उन्हों ने बताया कि डाक्टर मनमोहन सिंह के ब्यान ने ये बात साबित करदी है कि कांग्रेस के तेलंगाना से ताल्लुक़ रखने वाले क़ाइदीन या फिर रियासत से जुड़े हुए मर्कज़ी क़ाइदीन तेलंगाना अवाम को सिर्फ धोका दे रहे हैं और उन्हें झूटे दिलासे देते हुए ख़ामोश करवाने की कोशिश कररहे हैं। उन्हों ने बताया कि इलाक़ा तेलंगाना के कांग्रेस क़ाइदीन ने कई एक वाअदे इलाक़ा के अवाम से किए और एक से ज़ाइद मर्तबा ये तयक़ुन दिया गया कि अक्टूबर की इबतदा-ए-में तेलंगाना मसला हल करलिया जाएगा, अक्टूबर के अवाख़िर में इस मसला का काबिल-ए-क़बूल हल तलाश करलिया जाएगा,

और अब तेलंगाना कांग्रेस क़ाइदीन ने तेलंगाना अवाम को इस बात का तयक़ुन दिया था कि 10नवंबर के बाद तेलंगाना मसला का हल मर्कज़ी हुकूमत की जानिब से तलाश करलिया जाएगा।लेकिन गुज़श्ता यौम वज़ीर-ए-आज़म की जानिब से दिए गए ब्यान से ये बात 14 नवंबर होगई है कि मर्कज़ी क़ाइदीन और तेलंगाना क़ाइदीन में किस हद तक दूरियां हैं। मिस्टर ई दिया कर राव ने बताया कि वज़ीर-ए-आज़म डाक्टर मनमोहन सिंह का ब्यान काबिल-ए-मुज़म्मत है और तेलंगाना के हर गोशा से वज़ीर-ए-आज़म के ब्यान की मुज़म्मत करते हुए तहरीक तेलंगाना में शिद्दत पैदा की जानी चाहिये।

TOPPOPULARRECENT