Sunday , October 22 2017
Home / Hyderabad News / तेलुगूदेशम तेलंगाना की ताईद के मकतूब से दस्तबरदार होजाए

तेलुगूदेशम तेलंगाना की ताईद के मकतूब से दस्तबरदार होजाए

अलैहदा रियासत तेलंगाना की तशकील के लिए तेलुगूदेशम की ताईद से दसतबरदारी का मुतालिबा करते हुए वाई एस आर कांग्रेस ने आज कहा कि तेलुगूदेशम सदर इन चन्द्रबाबू नायडू अगर रियासत की तक़सीम की ताईद के मौक़िफ़ में तबदीली पैदा नहीं करते और मुत

अलैहदा रियासत तेलंगाना की तशकील के लिए तेलुगूदेशम की ताईद से दसतबरदारी का मुतालिबा करते हुए वाई एस आर कांग्रेस ने आज कहा कि तेलुगूदेशम सदर इन चन्द्रबाबू नायडू अगर रियासत की तक़सीम की ताईद के मौक़िफ़ में तबदीली पैदा नहीं करते और मुत्तहदा रियासत की हिमायत नहींकरते तो उन्हें दिल्ली का दौरा करने का कोई हक़ नहीं है।

वाई एस आर कांग्रेस की लीडर वाई एस शर्मीला ने यहां अवाम से ख़िताब करते हुए कहा कि तीन पार्टियों वाई एस आर कांग्रेस सी पी आई एम और मजलिस ने तक़सीम रियासत की मुख़ालिफ़त की है और तेलुगूदेशम को भी उनके साथ मिल कर मुत्तहदा रियासत की हिमायत करनी चाहीए।

उन्होंने कहा कि नायडू के अलावा तेलुगूदेशम पार्टी के अरकान असेंबली अरकान पार्ल्यमंट और अरकान कौंसिल को मुत्तहदा आंध्र के लिए जारी जद्द-ओ-जहद में शामिल होने के लिए अपने ओहदों से मुस्ताफ़ी होजाना चाहीए।

रियासत की तक़सीम के लिए नायडू को ज़िम्मेदार क़रार देते हुए उन्होंने कहा कि अब वक़्त आगया है कि नायडू और उनके साथी अरकान असेंबली-ओ-पार्ल्यमंट अपने स्तीफ़ा पेश करते हुए मुत्तहदा आंध्र की जद्द-ओ-जहद का हिस्सा बन जाएं ।

उन्होंने इल्ज़ाम लाग‌या कि तेलुगूदेशम पार्टी ने रियासत की तक़सीम और तेलंगाना की तशकील की गैर मशरूत ताईद की है। उन्होंने कहा कि जब तक वो तक़सीम रियासत की ताईद में मर्कज़ी हुकूमत को रवाना करदा अपने मकतूब से दसतबरदारी इख़तियार नहीं करते उस वक़्त तक उनके दिल्ली के दौरे करने का कोई मक़सद नहीं हो सकता।

उन्होंने कहा कि अगर नई रियासत तशकील दी जाती है तो दरयाए कृष्णा का पानी महाराष्ट्रा कर्नाटक और फिर तेलंगाना की ज़रूरत पूरी होने के बाद आंध्र तक पहूंचेगा। उन्होंने कहा कि सदर मुक़ाम का मसला भी मुतनाज़ा है और उसकी भी यकसूई की जानी चाहीए।

TOPPOPULARRECENT