Tuesday , August 22 2017
Home / Entertainment / दंगल गर्ल फातिमा सना शेख़ साम्प्रदायिक सौहार्द की जीती जागती मिसाल हैं

दंगल गर्ल फातिमा सना शेख़ साम्प्रदायिक सौहार्द की जीती जागती मिसाल हैं

मुंबई: फिल्म जगत तथा इस साल की सबसे चर्चित और सफल हिंदी फिल्म दंगल में पहलवान गीता फोगाट का किरदार निभाने वाली फातिमा सना शेख मूलत: कश्मीर की रहने वाली हैं. जोकि जम्मू कश्मीर की उन हजारों लड़कियों के लिए कठिन मेहनत कर सफलता अर्जित करने और भारतीय होने पर गर्व करने की मिसाल है. वहीँ विश्लेषकों का भी मानना है कि सना को उन लोगों के सामने उदाहरण के रूप में पेश किया जा सकता है जो जम्मू कश्मीर में लोगों को कभी धर्म तो कभी क्षेत्रवाद के नाम पर बांटने की कोशिश करते रहते हैं.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

एडिटप्लैटर के अनुसार, सना शेख मूलत: कश्मीर की रहने वाली हैं, और उनके पिता विपन शर्मा जम्मू के ब्राह्मण परिवार से हैं, और मां राज तब्बसुम श्रीनगर के एक मुस्लिम परिवार की हैं. विपन शर्मा 80 के दशक में कारोबार के सिलसिले में मुंबई चले गए और वहीं राज से शादी की. सना का जन्म वहीँ मुंबई में हुआ लेकिन उनके बाकी रिश्तेदार घाटी में ही रहते हैं. जोकि आपसी सद्भाव व धार्मिक सौहार्द्र की एक मिसाल हैं. बता दें कि उसने ने दंगल में गीता फोगाट का किरदार निभाया है जिसने 2010 के राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीत कर इतिहास रचा.


वहीँ सना के चाचा रॉकी शर्मा ने कहा कि सना जम्मू कश्मीर की उन हजारों लड़कियों के लिए कठिन मेहनत कर सफलता अर्जित करने तथा भारतीय होने पर गर्व करने की मिसाल है. सना ने हाल ही में अपने फेसबुक पेज पर लिखा था, मुझे अपने देश से प्यार है और भारत लिखी जर्सी पहनना मेरे लिए गर्व की बात है. शर्मा ने कहा कि जम्मू कश्मीर को मेरी भतीजी सना पर गर्व होना चाहिए और सना का इस माटी से रिश्ता है वह दोनों धर्मों व क्षेत्रों (जम्मू व श्रीनगर) से जुड़ी है.

ल्लेखनीय है कि सना ने तब्बू और कमल हासन की फिल्म ‘चाची 420’ में बच्ची भारती की भूमिका निभाई थी. 11 जनवरी 1992 को जन्मीं फातिमा कई बॉलीवुड और साउथ इंडियन फिल्मों में काम कर चुकी हैं. वह शाहरुख खान-जूही चावला स्टारर ‘वन टू का फोर, बिट्टू बॉस, आकाशवाणी’ जैसी फिल्मों व कई सीरियल में काम कर चुकी है.

TOPPOPULARRECENT