Tuesday , October 24 2017
Home / Uttar Pradesh / दयाशंकर की बेटी के साथ खड़ी हुई भाजपा, प्रदेश भर में पार्टी करेगी प्रदर्शन

दयाशंकर की बेटी के साथ खड़ी हुई भाजपा, प्रदेश भर में पार्टी करेगी प्रदर्शन

लखनऊ : दयाशंकर सिंह की जिस अभद्र भाषा को लेकर बसपा ने भाजपा को घेरने की कोशिश की, उसी मामले में वह खुद फंस गई। लखनऊ में प्रदर्शन के दौरान बसपा के नेताओं ने दयाशंकर सिंह की बेटी और बहन के लिए जिस तरह की अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया, उसने भाजपा को तुरंत पलटवार का मौका दे दिया है। दयाशंकर सिंह को पार्टी से निकालने के बावजूद मामले पर रक्षात्मक नजर आ रही भाजपा का रुख शुक्रवार शाम को हमलावर हो गया। भाजपा दयाशंकर की बेटी के साथ खड़ी हो गई है।

बेटी और बहन के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहे बसपाइयों के खिलाफ पार्टी ने शनिवार को प्रदेश भर में प्रदर्शन का ऐलान कर दिया है। प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने ‘बेटी के सम्मान में भाजपा मैदान में’ का नारा देते हुए कार्यकर्ताओं को लखनऊ समेत सभी जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन का निर्देश दिया है। भाजपा प्रदेश भर में प्रदर्शन कर बसपा नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी समेत दयाशंकर की बेटी और बहन के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल करने वाले बसपा नेताओं की गिरफ्तारी की मांग करेगी। पार्टी शनिवार को राज्यपाल राम नाईक को ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की भी मांग करेगी।

केशव ने दी माया को कार्रवाई की चुनौतीः भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने बसपा प्रमुख मायावती को अपशब्दों का इस्तेमाल करने वाले बसपाइयों पर कार्रवाई करने की चुनौती दी है। केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि अच्छा होता यदि अपशब्दों भरे नारों को सुनकर बसपा प्रमुख मायावती ने खुद नसीमुद्दीन सिद्दीकी समेत अन्य नेताओं पर एफआईआर दर्ज करवाई होती लेकिन वह उनको बचाने के लिए तर्क दे रही हैं। मौर्य ने कहा कि बसपा प्रमुख के मन में रंच मात्र भी स्त्री के प्रति सम्मान हो तो नसीमुद्दीन सिद्दीकी को विधान परिषद में पार्टी के नेता, बसपा महासचिव के पद और पार्टी से निष्कासित करें।

दयाशंकर की वापसी की संभावना से इनकारः भाजपा से निकाले गए दयाशंकर सिंह के परिवार पर बसपा नेताओं की अभद्र टिप्पणी के खिलाफ लखनऊ और बलिया में लोगों के प्रदर्शन के बीच दयाशंकर के भाजपा में वापसी की चर्चा भी शुरू हो गई है। हालांकि इस मामले में प्रदेश भाजपा ने साफ कर दिया है कि दयाशंकर के परिवार से पार्टी को हमदर्दी है लेकिन पार्टी में उनकी वापसी का सवाल नहीं उठता है। केशव मौर्य ने कहा कि यह प्रकरण खत्म हो चुका है।

TOPPOPULARRECENT