Tuesday , September 26 2017
Home / Featured News / दाअश के फंदे से बच्चों को बचाने में मुस्लिम ख़ानदानों का अहम किरदार

दाअश के फंदे से बच्चों को बचाने में मुस्लिम ख़ानदानों का अहम किरदार

बंग्लूरू 02 जनवरी: मर्कज़ी वज़ीर-ए-दाख़िला राजनाथ सिंह ने कहा कि मुल्क के मुस्लिम ख़ानदान अपने बच्चों को दौलत इस्लामीया के फंदे में फंसने से बचाने में अहम किरदार अदा कर रहे हैं क्युं कि हिन्दुस्तान में ख़ानदानी इक़दार मुस्तहकम हैं।

उन्होंने कहा कि इस की बनिसबत दुसरे ममालिक में दाअश की सरगर्मीयां उरूज पर हैं लेकिन हिन्दुस्तान में एसा नहीं है। उन्होंने कहा कि मुल्क की हिफाज़त और अवाम के जज़बात एहसासात दोनों मुस्तहकम हैं।

उन्होंने कहा कि मर्कज़ी हुकूमत अपने अवाम को तहफ़्फ़ुज़ फ़राहम करने की कोशिशें कर रही हैं। ये ज़रूरी है कि दहश्तगर्दी और बुनियाद परस्त सरगर्मीयों से बचाया जा सके। इस मौके पर तक़रीर करते हुए गवर्नर कर्नाटक वुजू भाई वाला ने अवाम से अपील की कि वो दहश्तगर्दी के चैलेंज का मुक़ाबला करने के लिए उठ खड़े हैं और ख़ातियों को मुंहतोड़ जवाब दें।

उन्होंने कहा कि अगर लोग दहश्तगर्दी के चैलेंज के ख़िलाफ़ मुत्तहिद ना हूँ और इस को मुंहतोड़ जवाब ना दें तो अच्छी तालीम और टेक्नालोजी की तरक़्क़ी रुक जाएगी। और वो इस तशद्दुद का शिकार बन जाऐंगे।

TOPPOPULARRECENT