Tuesday , October 24 2017
Home / India / दारुल उलूम का नज़रिया दहशतगर्द पैदा करने वाला : विश्व हिन्दू परिषद

दारुल उलूम का नज़रिया दहशतगर्द पैदा करने वाला : विश्व हिन्दू परिषद

नई दिल्ली : भारत माता की जय पर जारी फतवे की मज्मत करते हुए विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) के अंतर्राष्ट्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ सुरेन्द्र जैन ने कहा है कि अब किसी को कोई संदेह नहीं रहना चाहिए कि दारुल उलूम की विचारधारा ही दहशतगर्द पैदा करने वाली है| साथ ही यह फतवा वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी के उस बयान का सीधा जवाब है, जिसमे उन्होंने कहा था कि मज़हब को दहशतगर्द के साथ जोड़कर नहीं देखना चाहिए| डॉ सुरेन्द्र जैन ने इलज़ाम लगाया कि पहले ये वन्दे मातरम का इसीलिए मुखालिफत करते थे क्योंकि इसमे उन्हे मूर्तिपूजा की बू आती है| अब वे इसी बुनियाद पर उस नारे का मुखालिफत कर रहे है, जो आजादी की लड़ाई में करोड़ो देशभक्तों का प्रेरणास्त्रोत रहा|

facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उन्होंने कहा कि इस नारे में पूजा नहीं, बल्कि भारत की फतह का अहद लिया जाता है| दारुल उलूम ने कहा कि वह अल्लाह के अलावा किसी की विजय की कामना नहीं कर सकते| अल्लाह की विजय का काम दहशतगर्द कर ही रहे है| इसका मतलब साफ़ है कि वे दहशतगर्द का खुलकर हिमायत कर रहे है। इससे पहले के कुछ फतवे सिर्फ अपने इरादों पर पर्दा डालने की कोशिश भर हैं, कुछ और नहीं| मर्क़ज़ी वजीर और भाजपा के सीनियर लीडर गिरिराज सिंह ने भी फतवा की मज्मत करते हुए कहा कि मुल्क को तोड़ने की यह इंटरनेशनल तबके की साजिश है।

TOPPOPULARRECENT