Tuesday , August 22 2017
Home / Delhi News / दाल के बाद अब आटा भी हुआ महंगा,19 फीसदी बढ़ी कीमतें

दाल के बाद अब आटा भी हुआ महंगा,19 फीसदी बढ़ी कीमतें

नई दिल्ली। इस देश में मंहगाई को लोग दो नाम से जानते हैं। यह नाम एक ही राजनीतिक दलों द्वारा दिया गया है। जब यूपीए की सरकार थी तो इस मंहगाई को डायन बताया गया और अब लोग कहते हैं कि सरकार मंहगाई को विकास कह रही है। मोदी सरकार महंगाई पर काबू पाने में अभी भी असफल रही है। दाल की कीमतों में बढ़ोतरी के बाद आटा भी महंगा हो गया। पिछले दो हफ्तों में दिल्ली की सबसे बड़ी अनाज मंडी में थोक बाज़ार में आटा की कीमतें 19 फीसदी तक बढ़ गयी हैं जबकि खुदरा बाज़ार में 25 फीसदी तक। इससे साफ जाहिर है कि इस महंगाई का असर लोगों के जेब पर पड़ने वाला है।

खबर एनडीटीवी डॉट कॉम के मुताबिक, दक्षिणी दिल्ली के जमरूदपुर इलाके में विजय की किराना दुकान में आटा दो हफ़्ते में 25% महंगा हो गया है. विजय कहते हैं – ये थोक बाज़ार की बढ़ोतरी का असर है। उन्होंने एनडीटीवी से कहा, “दो हफ्ते पहले मेरी दुकान में आटा 20 रुपये किलो बिक रहा था। आज वो बढ़कर 25 रुपये प्रति किलो हो गया है।”

इस संकट का दायरा दिल्ली के बाज़ारों तक ही नहीं सिमटा, खाद्य मंत्रालय के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक 18 अक्टूबर से 3 नवंबर के बीच तिरुअनंतपुरम के थोक बाज़ार में आटा 2600 रुपये क्विंटल से बढ़कर 3500 रुपये क्विंटल हो गया यानी 35% महंगा। जम्मू के थोक बाज़ार में आटा 1900 रुपये क्विंटल से बढ़कर 2200 रुपये क्विंटल यानी 16% महंगा हुआ। जबकि इन दो हफ्तों में सोलान में 2000 रुपये क्विंटल से बढ़कर 2200 रुपये क्विंटल यानी 10% महंगा हुआ। ज़ाहिर है- दाल के बाद अब सरकार के सामने आटा की बढ़ती कीमतें एक नई चुनौती दिख रही हैं।

TOPPOPULARRECENT