Friday , October 20 2017
Home / India / दिग्विजय ने सुप्रीम कोर्ट को ही दे डाली नसीहत

दिग्विजय ने सुप्रीम कोर्ट को ही दे डाली नसीहत

वाराणसी, 10 मई: सीबीआई को पिंजरे में बंद तोता कहे जाने पर कांग्रेस के कौमी जनरल सेक्रेटरी दिग्विजय सिंह ने सुप्रीम कोर्ट को सलाह दे डाली है।

वाराणसी, 10 मई: सीबीआई को पिंजरे में बंद तोता कहे जाने पर कांग्रेस के कौमी जनरल सेक्रेटरी दिग्विजय सिंह ने सुप्रीम कोर्ट को सलाह दे डाली है।

दिग्विजय ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट अपना ऑब्जर्वेशन दे रही है। उसे हस्सासियत ( Sensitivity) बरतनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ऑब्जर्वेशन न करे, बल्कि अदालती हुक्म दे ताकि उसके खिलाफ अपील की जा सके।

शहर के सर्किट हाउस में उन्होंने कहा कि कोल ब्लॉक अलाट्मेंट मामले में सीबीआई की रिपोर्ट में सिर्फ सुझाव दिए गए हैं। वज़ारत ए कानून सीबीआई का वकील मुकर्रर करता है और उसे सुझाव देने का हक है।

मरकज़ी हुकूमत का बचाव करते हुए कहा कि आदाद व शुमार (Figures/आंकड़े ) बढ़ा-चढ़ाकर दिखाए गए हैं। रेल मंत्री पवन बंसल के मामले में कहा कि जांच में बंसल गुनाहगार पाए गए तो कार्रवाई होगी। कर्नाटक के इंतेखाबात में जीत के बाद भी उन्होंने कहा कि 2014 के असेम्बली इंतेखाबात पर इसका ज़्यादा असर पड़ने का इम्कान नहीं है।

जयललिता, मायावती, समाजवादी पार्टी पर बदउनवानी के मामले चले फिर भी वे मुंतखब हुए। दरअसल यह नज़रिया की जीत है।

संघ के लोग दहशतगर्दी सरगर्मियों में मुलव्वस हो रहे हैं। आवाम ने बीजेपी को नकार कर जुनूबी हिंदुस्तान में उनके असरात होने के दावे को दरकिनार कर दिया है।

गंगा के असल धारा को रोकने के मसले पर दिग्विजय ने कहा कि इस मामले में बनाई गई चतुर्वेदी कमेटी की रिपोर्ट आ गई है।

उन्होंने 30-20 फीसदी असल धारा की सिफारिश की है, जबकि मेम्बर सुनीता नारायण ने 50-30 फीसदी असल धारा का सुझाव दिया है। जुमे को इस ताल्लुक में पीएम से मुलाकात होनी है। अच्छा फैसला होने के इम्कान है।

TOPPOPULARRECENT