Thursday , August 24 2017
Home / Delhi News / दिल्ली: जमीयत के प्रोग्राम से कांग्रेस-लेफ्ट का PM पर निशाना

दिल्ली: जमीयत के प्रोग्राम से कांग्रेस-लेफ्ट का PM पर निशाना

9k=(27)

नई दिल्ली। जमीयत-उलेमा-ए-हिंद की ओर से दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय एकता सम्मेलन में पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा गया। जमीयत के मंच पर तमाम धार्मिक नेताओं के साथ ही कांग्रेस समेत तमाम राजनीतिक पार्टियों के नेता भी मौजूद थे। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने जमीयत के मंच पर पार्टी अध्यक्षा सोनिया गांधी का लिखा संदेश भी पढ़ा।

आजाद ने कहा कि सोनिया गांधी ने अपने इस संदेश पर उर्दू में हस्ताक्षर किए हैं। सोनिया ने अपने संदेश में पीएम मोदी पर परोक्ष तौर पर निशाना साधते कहा, ‘देश में फिरकापरस्त ताकतें सिर उठा रही हैं। मुल्क इस वक्त नाजुक दौर से गुजर रहा है। सेकुलरिज्म को खासकर निशाना बनाया जा रहा है।’

संदेश में कहा गया कि जैसे आप सब बाहर धर्मनिरपेक्षता की लड़ाई लड़ रहे हैं, वैसे ही सोनिया गांधी संसद के अंदर यह लड़ाई लड़ रही हैं। इस मौके पर कई वक्ताओं ने आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर के कार्यक्रम पर भी निशाने साधे। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के भी इस मंच पर पहुंचने की खबर है।

इस कार्यक्रम में मौजूद सीपीएम नेता मोहम्मद सलीम ने भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा। जेएनयू विवाद को लेकर सरकार पर अटैक करते हुए सलीम ने कहा, ‘नाथूराम का खानदान आकर हमसे देशभक्ति का सर्टिफिकेट मांग रहा है।

सलीम ने कहा कि उनके मुंह में राम नाम है और बगल में नाथूराम। सीपीएम नेता ने सीधे संघ परिवार पर हमला करते हुए कहा कि उसे मुस्लिमों, ईसाइयों और कम्युनिस्टों से नफरत है। सलीम ने कहा, ‘हम इस नफरत की आग में हिंदुस्तान को जलाने नहीं देंगे। सेकुलरिज्म के साथ ही जम्हूरियत का भी गला घोंटा जा रहा है।

इस कार्यक्रम के मंच पर जमीयत के अध्यक्ष अरशद मदनी और महमूद मदनी समेत यूपी की समाजवादी पार्टी सरकार में कैबिनेट मंत्री शाहिद मंजूर, कांग्रेस प्रवक्ता मीम अफजल और नवाब इकबाल महमूद जैसे कई नेता मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT