Sunday , October 22 2017
Home / Sports / दीपिका को सिलवर मैडल, दूसरी मर्तबा गोल्ड मैडल से महरूम

दीपिका को सिलवर मैडल, दूसरी मर्तबा गोल्ड मैडल से महरूम

नई दिल्ली 27 सितंबर (पी टी आई) दीपिका कुमारी अंदरून दो माह दूसरी मर्तबा गोल्ड मैडल से महरूम रहिं जैसा कि इस्तंबोल ने आरचरी वर्ल्ड कप के फाईनल में हिंदूस्तानी एथलीट को चीन की मंग चंग के ख़िलाफ़ 5-6 की शिकस्त बर्दाश्त करनी पड़ी जिस के बाद

नई दिल्ली 27 सितंबर (पी टी आई) दीपिका कुमारी अंदरून दो माह दूसरी मर्तबा गोल्ड मैडल से महरूम रहिं जैसा कि इस्तंबोल ने आरचरी वर्ल्ड कप के फाईनल में हिंदूस्तानी एथलीट को चीन की मंग चंग के ख़िलाफ़ 5-6 की शिकस्त बर्दाश्त करनी पड़ी जिस के बाद उन्हें सिलवर मैडल पर इकतिफ़ा करना पड़ा। ये दूसरी मर्तबा है जबकि क़ौमी एथलीट को पोडियम पर दूसरे मुक़ाम पर खड़े होना पड़ा क्योंकि माह जुलाई में अमरीका में मुनाक़िदा वर्ल्डकप में वो तीसरा मुक़ाम हासिल करने में कामयाब हुई थीं। गोल्ड मैडल के अदम हुसूल के बावजूद दीपिका का मुज़ाहरा शानदार है क्योंकि उन्हों ने सिलवर मैडलस की हैट ट्रक करली ही। गुज़श्ता माह शंघाई में मुनाक़िदा वर्ल्ड कप में भी इन का मुज़ाहरा बेहतर था जहां उन्हों ने ब्रॉनज़ मैडल हासिल किया। आरचरी वर्ल्ड कप के फाईनल में दीपिका को अपने आख़िरी निशाने में नाकामी हुई जिस की वजह से वो गोल्ड मैडल हासिल ना करसकें। दूसरी जानिब गोल्ड मैडल हासिल करनेवाली चंग भी आख़िरी निशाने में कामयाब ना हो सकें लेकिन दोनों के मुज़ाहिरों में इंतिहाई थोड़ा फ़र्क़ था। 17 साला दीपिका ने इस कामयाबी के बाद इज़हार-ए-ख़्याल करते हुए कहा कि हवा की वजह से निशाना लगाने में दिक़्क़त हो रही थी जिस के बावजूद उन्हों ने अपनी निगाह निशाना पर बरक़रार रखने की पूरी कोशिश की। उन्हों ने मज़ीद कहाकि मुक़ाबला का मुक़ाम समुंद्र से क़रीब था जिस की वजह से मेरे इलावा दीगर एथलीट्स को अपना निशाना लगाने में मुश्किलात का सामना होर रहा था। नीज़ मैंने माज़ी में कभी इस तरह के हालात में मुक़ाबला नहीं किया था।

TOPPOPULARRECENT