Tuesday , October 17 2017
Home / Technology / दुनिया की पहली ड्रोन ट्रैक्सी का दुबई में परीक्षण

दुनिया की पहली ड्रोन ट्रैक्सी का दुबई में परीक्षण

दुबई : दुबई में  दुनिया की पहली ड्रोन ट्रैक्सी सेवा की शुरुआत करने के लिए सरकार जोरशोर से जुटी है. जिसका सफल परिक्षण हुआ इस परीक्षण में उड़ान के दौरान टैक्सी 200 मीटर की ऊंचाई पर पांच मिनट तक खाड़ी के तटवर्ती इलाके में रेत और हवाओं के बीच उड़ान भरती रही.

इस उड़ने वाली टैक्सी को जर्मन ड्रोन कंपनी वोलोकॉप्टर ने तैयार किया है जो दिखने में दो सीट वाले एक छोटे हेलीकॉप्टर के केबिन जैसा है. जिसके ऊपर 18 शक्तिशाली पंख लगे हैं. दुबई के क्राउन प्रिंस शेख हमदान बिन मोहम्मद के सामने इस टैक्सी की पहली उड़ान में कोई यात्री नहीं था.

बिना रिमोट कंट्रोल से चलने वाली यह टैक्सी अधिकतम 30 मिनट तक हवा में उड़ान भर सकती है. इसमें आपात स्थिति के लिए बहुत सारे इंतजाम किये गये हैं. इनमें बैकअप बैटरी, पंख और सबसे बुरे हालात का सामना करने के लिए कई पैराशूट भी रखे गये हैं.

वोलोकॉप्टर इस परियोजना के लिए एक दर्जन से ज्यादा यूरोपीय और अमेरिकी कंपनियो से मुकाबले में है. सभी कंपनियों के पास साइंस फिक्शन से प्रेरित एक कल्पना है जिसमें शहरी यातयात के लिए एक नये तरह की गाड़ी बनाने का विचार है. ऐसी गाड़ी जो बिना ड्राइवर वाली इलेक्ट्रिक कार और छोटी उड़ान भरने वाली विमानों के बीच में कही है.

वोलोकॉप्टर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी फ्लोरियान रॉयटर का कहना है, “सेवा के शुरू होने पर स्मार्टफोन में एक ऐप के जरिये पास में मौजूद वोलोकॉप्टर के लिए आर्डर किया जा सकेगा. वोलोकॉप्टर खुद आपके पास पहुंचेगा और आपको आपकी मंजिल तक पहुंचा देगा.” फ्लोरियान के मुताबक, “यह टैक्सी जीपीएस के सहारे उड़ान भरने में सक्षम है और जल्दी ही इसे इस तरह से तैयार कर दिया जाएगा कि रास्ते में पड़ने वाली अंजान चीजों से भी यह बच कर निकल सके.” फ्लोरियान के मुताबिक अगले पांच वर्षों के भीतर इस टैक्सी को शुरू किया जा सकता है.

TOPPOPULARRECENT