Monday , September 25 2017
Home / Delhi News / दुनिया भर में रैंसमवेयर साइबर अटैक, भारत में भी है इसका कहर

दुनिया भर में रैंसमवेयर साइबर अटैक, भारत में भी है इसका कहर

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद भले ही रैनसमवेयर के हमले से भारत को सुरक्षित रहने का दावा कर रहे हों, लेकिन यह भी सच है कि बीते दो दिनों के दौरान साइबर हमलावरों ने यहां के करीब 40,000 से अधिक कंप्यूटरों को अपना निशाना बनाया है।

रैनसमवेयर के हमलों से सचेत और इस पैनी नजर रखने वाले साइबर सुरक्षा से जुड़े विशेषज्ञों की मानें, तो दुनिया के 150 देशों में कंप्यूटरों पर वार करने वाले रैनसमवेयर वानाक्राई के चलते भारत में करीब 40,000 से अधिक कंप्यूटर साइबर हमलों की चपेट में आये हैं। इस हमले के साथ रैनसमवेयर के हमलों के शिकार देशों में भारत तीसरा सबसे बड़ा देश रहा है।

हालांकि, इस बीच न तो किसी बड़ी कंपनी और न ही किसी बैंक ने अपने कामकाज में किसी प्रकार की बाधा आने की शिकायत की है, लेकिन मंगलवार को देश के कई हिस्सों में पुराने विडों वाले एटीएम बंद रहे और आगामी कई दिनों तक इसका प्रभाव देखने को मिल सकता है।

साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों का कहना है कि दुनियाभर में इस वायरस की चपेट में 2 लाख से ज्यादा कंप्यूटरों के आने के बाद कॉरपोरेट क्षेत्र का कामकाज पटरी पर लौट आया है। उन्होंने कहा कि साइबर हमलावरों का एक और हमला का डर सच साबित नहीं हुआ। डीएसके लीगल के पार्टनर तुषार अजिंक्य ने कहा कि भारत में पारदर्शिता नहीं है।

बैंकों और सूचीबद्ध कंपनियों के लिए अनिवार्य नियम है कि वे किसी भी साइबर हमले का खुलासा करें, लेकिन कुछ ही बैंक और कंपनियां इस नियम का पालन करती हैं। उन्होंने कहा कि हमने पहले देखा है कि ऐसे हमलावर भारतीय वेबसाइट्स को मुख्य तौर पर डीफेस कर देते थे, लेकिन अब पैसे के लिए उनका मकसद भी बदल गया है।

TOPPOPULARRECENT